मोटापा को समाप्त करने में बेहद कारगर है ये अनाज

आजकल के समय में जहां दूषित खानपान के चलते लोगों में कई तरह बीमारियों ने जन्म लिया हैं। क्यों कि खानपान का उचित स्तर नहीं रख पाने पर ऐसी स्थिति आ जाती हैं। शरीर के लिए आवश्यक मात्रा मे आवश्यक हैं कि आप अनाज में पाये जाने वाले पोषक तत्वों को पहचाने और उनका सेवन बहुत ही उचित प्रकार से करें। हम सभी जानते हैं कि गेंहू की एक जाति जौ हैं।

लेकिन ये गेंहू की अपेक्षा हल्का और बहुत मोटा अनाज है। जौ में मुख्य रूप से लेक्टिक एसिड, सैलिसिलिक एसिड, फास्फोरिक एसिड, पोटेशियम और कैल्शियम उपलब्ध होता है। जौ के फायदेजिन लोगों को गर्भपात होता है उनके लिए जौ अमृत से कम नहीं हैं। इसके सेवन से गर्भपात की समस्या दूर होती है। जौ के आटे को घी और ड्राई फ्रूट के साथ मिलाकर लड्डू बना कर खाया जा सकता है।

खराब और दूषित खानपान के चलते अधिकतर लोग पथरी की समस्या से परेशान रहते हैं। इस बीमारी से पीड़ित लोग जौ को पानी में उबालें। और ठण्डे पानी के साथ पीयें। इसके अलावा ऐसे लोग जौ की रोटी, धाणी और जौ का सत्तू भी ले सकते हैं। जौ के सत्तू और त्रिफले के काढ़े में शहद मिलाकर पीने से मोटापा समाप्त हो जाता है।

इसके अलावा जो व्यक्ति कमजोर हैं वे जौ को दूध के साथ खीर बना कर खाने से मोटे हो जाते हैं। जौ सिर्फ आंतरिक ही नहीं बल्कि बाहरी रूप से भी लाभकारी है। देखा जाये तो आप गेंहू के साथ जौ, चना आदि को मिलाकर पीसने से इनकी रोटियां खाने से आपको पाचन में राहत मिलेगी। इससे स्वास्थ्य भी ठीक रहता हैं।

यह भी पढ़ें:

एल्युमिनियम फॉयल में पैक खाना बनता है इन गंभीर बीमारियों का कारण!

कमर दर्द से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे