पीरियड से जुड़ी हैं ये भ्रांतियां, जानिए क्या सोचते हैं लोग

पीरियड्स एक ऐसा विषय है जिसके बारे में लोग बात करने से कतराते हैं। यहीं नहीं, कई जगहों पर इन दिनों लड़कियों के साथ काफी बुरा व्यवहार भी किया जाता हैं। हर महिला को पीरियड के दिनों से गुजरना पड़ता है। इन दिनों में महिलाओं को कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है। इसके बारे में समाज में कई वहम पाले जाते है।

कई लोगों का मानना हैं कि इन दिनों में लड़कियां अशुद्ध हो जाती हैं। ऐसे में उन्हें किचन या मंदिर में नहीं जाना चाहिए लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता। दरअसल, इस प्रक्रिया में शरीर में से अनफर्टिलाइज्ड एग बाहर निकलते है।

अगर किसी लड़की का पीरियड मिस हो गया तो इसका मतलब वह प्रैंग्नेंट है लेकिन इसका पीछे कारण कुछ और भी हो सकता है। कई बार तनाव और खराब डाइट की वजह से भी पीरियड मिस हो जाते है।

कहा जाता है कि पीरियड्स के दौरान गर्म पानी से नहीं नहाना चाहिए लेकिन यह सेहत के लिए अच्छा होता है। गुनगुने पानी से नहाने से दर्द कम होता है और आराम मिलता है।

पहले समय से आपने ऐसे कहते सुना होगा कि इन दिनों में अचार को छूने से वह खराब हो जाता है लेकिन यह एक वहम है। किसी चीज को छूने से वह खराब नहीं होती।

कुछ लोगों का यह सोचना हैं कि इन दिनों में एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए लेकिन ऐसा नहीं है। अगर परेशानी ज्यादा हो तब एक्सरसाइज कभी नहीं करनी चाहिए लेकिन अगर परेशानी कम हो तो एक्सरसाइज करने से मसल्स जरूर रिलैक्स होती है।