गले के cancer के लिए उत्तरदायी है ये लक्षण

हमारे गले से आवाज निकालने की जिम्मेवारी इसमें पाए जाने वाली स्वर पेटी यानि की लरयक्स की होती हैं। कई बार लोगों द्वारा धुम्रपान और तम्बाकू के सेवन के कारण लरयक्स पर बहुत ही बुरा असर पड़ने लगता हैं।

अधिकतर मामलों में यह देखा जाता है कि मुंह और गले का कैंसर सबसे अधिक महिलाओं के मुकाबले पुरुषों को बहुत ज्यादा ज्यादा होता है। यह दिल्ली जैसे शहरों में बहुत ही से फैल रहा है। गले के कैंसर से मुख्य रुप से सिगरेट और तंबाकू का सेवन करने वाले तो इस गंभीर बीमारी के संभावित शिकार होते ही हैं साथ ही अप्रत्‍यक्ष धूम्रपान करने वाले भी इसका गंभीर शिकार होते है।

क्या है गले का कैंसर

सामान्यतः गले के कैंसर मुख के तार पर ही शुरू होते हैं, और बाद में स्वर यंत्र से गले के पिछले हिस्से, जिसमें जीभ और टांसिल्‍स के हिस्से भी इसमें शामिल होते हैं। ये धीरे धीरे श्‍वांसनली में भी फैल जाते हैं।

ये है लक्षण-

  • ज्यादा दिनों तक के लिए आवाज बदलना या फिर आवाज में भारीपन आना।
  • खाना निगलने में अत्यधिक दिक्कत होना।
  • तेजी से वजन बहुत कम होना।
  • लंबे समय तक गले में खराश रहना।
  • कफ के साथ खून निकलना।
Loading...