डायरिया से बचाव में काम आएंगे यह टिप्स

गर्मी के मौसम में व्यक्ति को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना अक्सर करना पड़ता है। जिनमें से डायरिया भी एक है। इस मौसम में खानपान या साफ-सफाई के प्रति बरती गई लापरवाही डायरिया का मुख्य कारण बनती है। वैसे तो यह समस्या छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक को हो सकती है, लेकिन अगर आप कुछ बातों का ध्यान रखें तो इससे काफी हद तक खुद को बचा सकते हैं-

छोटे बच्चों को किसी भी बीामारी से बचाव में मां का दूध रामबाण की तरह काम करता है। अगर आपका बच्चा छह माह से कम उम्र का है तो उसे गर्मी के मौसम में भी सिर्फ मां का दूध ही दें। कुछ महिलाएं गर्मी के कारण बच्चों को पानी पिलाती हैं, लेकिन वास्तव में मां का दूध ही बच्चे के लिए संपूर्ण आहार होता है।

वहीं साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखकर भी इससे बचा जा सकता है। इसके लिए आप वॉशरूम के इस्तेमाल के बाद एंटीबैक्‍टीरियल साबुन से हाथ धोएं। खाना खाने से पहले और बाद में साबुन से अच्‍छे से अपने हाथों को धोएं। पानी और खाने की चीजों को साफ रखें।

पानी की स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें। इसके लिए पीने वाले पानी को उबालें और फिर उसे ठंडा करके पिएं। साथ ही बिना पकी सब्जियों और कटे और खुले फलों को खाने से परहेज करें। इसमें कई तरह के बैक्टीरिया पनपते हैं, जो सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं।