रीठा से होंगे ये बेमिसाल फायदे, ऐसे करें इस्तेमाल

रीठा से हम बालों को धो सकते हैं तथा इसे शैंपू के रूप में यूज किया जा सकता है। रीठा एक ऐसा पेड है जो पूरे भारत में पाया जाता है। रीठा के पेड पर गर्मियों में फूल आते हैं, जो कि आकार में बेहद छोटे हैं। इनका रंग हल्का हरा होता है।

रीठा एक प्राकृतिक क्लींजर है ये बाल और त्वचा की गंदगी और तेल को निकालने में मदद करता है। रीठा का वृक्ष बडा और पत्ते लंबे होते हैं। इसके हल्के गुलाबी रंग के फूल ही फूलों का रूप धारण कर लेते हैं। इसका फल पानी में डाले पानी में डालने पर झाग उत्पन्न करता है।

रीठा का पानी चेहरे के लिए बेहद लाभकारी होता है। इस में सभी प्राकृतिक गुण है। ये चेहरे पर तेल की कम करता है।

रीठा का पानी एक कुदरती हैंडवॉश है। आप चाहें तो हाथ धोने के लिए इसका यूज कर सकते हैं। हो सके तो रीठा के पानी में कुछ बूंद नींबू का रस मिला दीजिए ताकि इसकी सुगंध अच्छी हो जाए और साथ ही नींबू का रस इसे अधिक दिनों तक सही रखेगा।

वात, कफ तथा खुजली रोग में रीठा के बीजों का चूर्ण दो-दो ग्राम सुबह शाम गुनगुने पानी में साथ 10 दिन तक सेवन कराने से रोगी को उपरोक्त रोगों से मुक्ति मिल जाती है।

हिस्टीरिया के दौरे पडने वाले मरीज के छिलकों को जलाकर उसका धुआं देना चाहिए एक महिने तक उसकी धूनी के प्रयोग से हिस्टीरिया के दौरे पडने बंद हो जाते हैं।

बालों के लिए रीठा बेहद उपयोगी है। जो महिलाएं अपने बाल रीठा के पानी से धोती हैं। उनके बाल काले, मजबूत और लंबे हो जाते हैं।

सेहत के लिए बहुत गुणकारी है आंवले का जूस, जानिए इसके फायदे