आज रात 12.30 बजे से RBI के तरफ से शुरू की जा रही है ये बड़ी सुविधा

रिजर्व बैंक ने ग्राहकों की सुविधा के लिए बड़ा ऐलान कर दिया है। आज रात 12.30 बजे से RBI के तरफ से एक बड़ी सुविधा की शुरुआत की जा रही है।

रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) की सुविधा रात 12.30 बजे से सातों दिन 24 घंटे मिल जाएगी। यानी आरटीजीएस अब किसी भी समय कराई जा सकेगी। यह सेवा 14 दिसंबर की रात में साढ़े 12 बजे से ग्राहकों के लिए हर वक्त उपलब्ध रहेगी।

भारतीय रिजर्व बैंक के मुताबिक 14 दिसंबर से आरटीजीएस किसी भी समय कराई जा सकेगी। अब किसी भी वक्त आरटीजीएस के जरिए पैसे ट्रांसफर किए जा सकेंगे।

RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास का कहना है कि कोरोना काल में ऑनलाइन बैंकिंग में तेजी आई है। इसके बाद ही आरबीआई ने RTGS की सुविधा 24*7 घंटे उपलब्ध कराने का फैसला लिया है।

आरटीजीएस डिजिटल फंड ट्रांसफर करने का एक तरीका है। इसकी मदद से बेहद कम समय में पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं। RTGS के तहत न्यूनतम 2 लाख रुपये भेजे जा सकते हैं। अधिकतम राशि भेजने की सीमा 10 लाख रुपये है।

आरबीआई ने आरटीजीएस के जरिए 2 लाख से 5 लाख तक पैसे ट्रांसफर करने के लिए अधिकतम शुल्क 24.5 रुपए रखा है और 5 लाख से अधिक के फंड के लिए बैंक अधिकतम 49.5 रुपये का शुल्क ले सकता है। इस पर जीएसटी भी देनी पड़ती है।

इसके अलावा आईएमपीएस के जरिए भी पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं। इससे तुरंत पैसे ट्रांसफर हो जाते हैं। कई बैंक इसके लिए महज 5 से 10 रुपए चार्ज करती हैं। कई बैंक 1 हजार रुपए तक का कैश ट्रांसफर निशुल्क करती हैं।

RTGS की शुरुआत 26 मार्च 2004 को हुई थी। उस समय केवल 4 बैंक ही इस सेवा से जुड़े थे, लेकिन अब देश के करीब 237 बैंक इस प्रणाली के माध्यम से 4.17 लाख करोड़ रुपए का लेनदेन रोजाना करते हैं।

अभी तक दूसरे और चौथे शनिवार को छोड़कर महीने के सभी वर्किंग डे पर सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक RTGS की मदद से फंड ट्रांसफर किया जाता रहा है। इससे पहले आरबीआई ने NEFT के नियमों में भी बदलाव किया था। NEFT की सुविधा दिसंबर 2019 से 24 घंटे उपलब्ध है।

15 दिन के महायुद्ध के लिए हथियार और गोलाबारूद जुटा रही हैं भारतीय सेना