आंखों से जुड़ी गंभीर समस्या है यह, करें मसाज

हमनें कई बार देखा हैं कई लोगों की आंख फड़कती हैं तो ऐसा संकेत माना जाता हैं की कुछ अच्छा या भूरा होने वाला हैं.लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता हैं. आंख कई बार ज्यादा स्ट्रेस लेने से भी फड़कने लगती हैं, जो एक आम बात हैं. कई बार आँखों की मांसपेशियां कमजोर होने से भी आंख फड़कने लगती हैं. अगर आपकी भी लगातार आंख फड़क रही हैं तो हम आपको कुछ उपाए बताने जा रहे हैं जो आपको बहुत मदद करेगा।

*पलकों को 30 सेकेण्ड्स तक झपकायें।

*अपने आँखों को अर्ध-खुली अवस्था में लायें।

*अपनी बीच वाली उंगली की सहायता से निचली पलक की गोलाई में मसाज करें। जिस आँख में फड़कन हो उसकी पलक का लगभग 30 सेकेण्ड्स तक मसाज करें।

*जितना सम्भव हो उतनी जोर से आँखें बंद कर लें। फिर आँखों को खोल कर यथासम्भव फैलायें। इस क्रिया को तब तक जारी रखें जब तक आँसू न निकलने लगे।

*एक्यूप्रेशर रोग निदान की एक ऐसी विधि है जिसके जरिए शरीर के विभिन्न हिस्सों के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर दबाव डाला जाता है।

*आंखों का फडफडाना आपके के लिए एक समस्या बन चुका है तो हाइड्रोथिरेपी तकनीक को आपनाएं। इस तकनीक के तहत बंद आंखों पर बारी-बारी से गुनगुने और ठंडे पानी का छींटा मारें।