ऐसे बचाएं अल्जाइमर रोगी खुद को

अल्जाइमर रोगियों के लिए खमीर और लाइव बैक्टीरिया (प्रोबायोटिक्स) लाभदायक  साबित हो सकते हैं। इसके रोजाना सेवन से इन रोगियों की याददाश्त में बहुत सुधार हो सकता है। यह दावा नए शोध में किया गया है। शोधकर्ताओं के अनुसार, प्रोबायोटिक्स को पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। यह डायरिया, इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम, एक्जिमा, एलर्जी और जुकाम जैसे संक्रमणों से हमारा बचाव करता है।

प्रोबायोटिक्स से स्मृति भी बेहतर हो सकती है। इसका 60 से 95 साल के 52 अल्जाइमर रोगियों पर क्लिनिकल प्रयोग  किया गया। इन्हें 12 सप्ताह तक प्रतिदिन प्रोबायोटिक्स की खुराक दी गई। इससे इनकी स्मृति में भले ही सीमित है, लेकिन जबरदस्त सुधार पाया गया। कशान यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर  ने कहा कि निष्कर्षों से संकेत मिला है कि मेटाबोलिक में कुछ बदलाव करने  से इसका अल्जाइमर और मस्तिष्क संबंधी दूसरे विकारों पर बहुत अधिक  प्रभाव पड़ने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें –

काला नमक वाला पानी हर रोज पीएं, ये ​बीमारियां होगी दूर