महिलाओं की नींद पूरी न हो पाने के पीछे ये है कारण

इस बात से तो हम सभी वाकिफ हैं कि नींद का स्वास्थ्य से सीधा संबंध है। हेल्दी रहने के लिए जरूरी है कि आप पर्याप्त नींद लें लेकिन अधिकतर महिलाएं अपनी नींद पूरी ही नहीं कर पातीं, जिसके कारण उन्हें कई तरह की हेल्थ संबंधी प्राॅब्लम का सामना करना पड़ता है। तो चलिए जानते हैं उन कारणों के बारे में, जिनके चलते किसी महिला की नींद पूरी नहीं हो पाती-

अक्सर महिलाएं जब बिस्तर पर जाती हैं तो भी उनका दिमाग काफी सक्रिय रहता है। वह न सिर्फ दिनभर के काम के बारे में सोचती हैं, बल्कि अगले दिन की प्लानिंग भी उनके दिमाग में होती है, जिसके कारण उनकी नींद पर असर पड़ता है।

आजकल हर महिला मल्टीटॉस्किंग करती हैं, ऐसे में उनका दिमाग ज्यादा थक जाता है। ज्यादा स्ट्रेस के कारण उनका दिमाग शांत नहीं होता और उनकी नींद अधूरी रह जाती है।

हर घर में महिलाएं सबसे पहले उठती हैं और रात को भी सब काम निपटाने के बाद ही वह सो पाती हैं, जिसके कारण उन्हें सोने के लिए दूसरों से काफी कम समय मिल पाता है। ऐसे में नींद का पूरा न होना पाना आम है।

सोने की खराब आदतें, गलत पोजीशन और अनियमित समय पर सोना भी नींद को प्रभावित करता है। अगर आपमें भी ऐसी कोई आदत है तो उसे तुरंत सुधार लें।