मसूड़ों की बीमारी के लिए बहुत ज्यादा कारगर है ये लिक्विड

आप सब ने लिस्टरीन माउथ वाश के बारे में तो सुना होगा। ओरल हेल्थ को अच्छा रखने के लिए ये चीज़ 100 साल से अधिक बाज़ार में उपलब्ध है। मुँह की दुर्गन्ध दांतों के प्लाक पीलापन व मसूड़ों की बीमारी जैसे पाएरिया में लिस्टेरीन बहुत उपयोगी है।

  •  पैरों के नाखूनों में फ़ंगस या ऐथ्लीट फूट हो जाने पर नाखूनों में फ़ंगस हो जाने पर रुई में लिस्टेरीन डुबो के 45 मिनट के लिए छोड़ दे फिर मुलायम ब्रश को लिस्टेरीन में डुबो के हल्के हल्के नाखूनों को साफ़ करे फ़ंगस दूर हो जाएगा।
  • ऐथ्लीट फूट हो जाने पे लिस्टेरीन और सिरका मिला के 30 मिनट के लिए पैरों पे रखे। ये क्रिया हफ़्ते में 2 बार करने से परेशानी दूर होगी।
  • पीले नाखूनों को करे साफ़ व बनाए चमकदार थोड़ी सी लिस्टेरीन में सिरका मिला के अच्छे से हिला ले फिर ब्रश से नाखूनों पे 10 मिनट घिसे।
  • सर की रूसी को करे दूर एक कप लिस्टेरीन को 200 ml पानी में मिला के हफ़्ते में 3 बार सर धोए।
  • बालों को लिस्टेरीन से भिगो दे फिर उँगलीयो के पोरो से हल्के हल्के मसाज करे 15 मिनट तक छोड़ दे फिर शैम्पू करे।
  • सर की जूँ को मार गिराए सर पे थोड़ी सी लिस्टेरीन डाल के आधा घंटा छोड़ दे सर को शॉवर कैप से ढाक के रखे। आधे घंटे बाद शैम्पू कर कि बाली को धोए और बारीक कंघी करे सारी जूँ लीखो कि साथ निकल जाएँगी। लगातार 2 दिन करे फिर हफ़्ते में दो बार। ध्यान रहे  लिस्टेरीन अपनी आँख या नाक में नहीं जाना चाहिए। सर पे कोई ज़ख़्म हो तो ना इस्तेमाल करे। ज़ख़्म भर जाने के बाद करे।
  • पैरों की दुर्गन्ध व फटी एड़ीयो का उपचार 2  कप गरम पानी में 1 कप लिस्टेरीन डाल के 20 मिनट के लिए पेरों को डूबा रहने दे। इसके बाद पैरों को धो ले ओर अच्छे से रगड़ के साफ़ करे ताकि ख़राब खाल निकल जाए। इससे दुर्गन्ध व फटी एड़ियाँ ठीक हो जाएगी। हफ़्ते में 2 बार करे।
  • अगर शेविंग करने के बाद कट गया हो या त्वचा रूखी हो गयी हो तो थोड़ा सा लिस्टेरीन ले कि चेहरे पे मल ले इसमें उपस्थित ऐल्कहाल ऐंटिसेप्टिक का काम करता है।
  • गले में ख़राश महसूस कर रहे हो तो गुनगुने पानी में एक ढक्कन लिस्टेरीन डाल के गार्गल करे।
  • अगर घर में रखे फूल गुलदस्ते में जल्दी सूख जाते हो तो उसने थोड़े से पानी में लिस्टेरीन डाल के रखे। फूल जल्दी नाहीं सूखेंगे।