ये खबर आपके लिये है अगर आप अंधेरे में यूज करते हैं स्मार्टफोन

आज के दौर में हर किसी के पास स्मार्टफोन होता है. लोग पूरे दिन स्मार्टफोन से चिपके रहते हैं.लेकिन कुछ लोगों को रात में फोन यूज करने की आदत होती है.  लेकिन आपको बता दें कि रात में मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं तो ये आपके लिए खतरनाक हो सकता है.इसी के साथ ही ये आपके ब्रेन पर भी काफी बुरा असर डालता है. इस पर की गई कई रिसर्च के अनुसार इसके बेहद खतरनाक असर सामने आए हैं.

अंधेरे में मोबाइल यूज करने के हानिकारक प्रभाव

आंखों की रोशनी में कमी

रात में सोने से पहले मोबाइल का इस्तेमाल करने से आपकी आंखों के रेटीना पर बुरा असर पड़ता है. इससे आंखों की रोशनी कमजोर हो जाती है.

फोकसिंग मसल्स पर असर

आंखों की फोकसिंग मसल्स पर बुरा असर पड़ता है. इससे चीजों को फोकस करने में दिक्कत होती है.

आंखों में रेडनेस

रात को ज्यादा देर तक मोबाइल चलाने से इसकी रोशनी आंखों में रेडनेस की समस्या पैदा कर देती है.

आंखों के नीचे डार्क सर्कल

आंखों पर स्ट्रेस पड़ता है और इससे आपकी आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स की प्रॉबलम्स हो सकती है.

नींद में कमी

बॉली में मेलाटोनिन हॉर्मोन का लेवल कम हो जाता है जिससे नींद देर से आने की समस्या होने लगती है.

स्ट्रेस बढ़ता है

देर रात तक मोबाइल चलाने से मेलाटोनिन हॉर्मोन का लेवल कम होता है, जिसकी वजह से आपका स्ट्रेस बढ़ने लगता है.

ब्रेन पर पड़ता है बुरा असर

ये आपकी मेमोरी को कमजोर कर सकता है. साथ ही ये ब्रेन ट्यूमर का खतरा भी हो सकता है.

थकान

रात में ज्यादा देर तक मोबाइल चलाने से आपकी नींद पूरी नहीं हो पाती है और इसलिए आपको थकान महसूस होती है.

ग्लूकोमा

ऑप्टिक तंत्रिका पर बुरा असर पड़ता है. इससे ग्लूकोमा (काले मोतिया) का खतरा बढ़ जाता है.

यह भी पढ़ें-

अगर आप है पापड़-चिप्स के शौकीन तो खाने से पहले पढ़ें ये खबर