‘क्वॉड समूह’ की बैठक के बाद चीन की ओर से आया यह बयान

भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान के बीच बने क्वॉड समूह की पहली बैठक को चीन में बहुत बारीकी से कवर किया गया। चीन में सरकारी मीडिया द्वारा इसे अमेरिका के नेतृत्व में चीन को रोकने वाला एक प्रयास बताया गया है।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लिजियान ने क्वॉड-बैठक से संबंधित एक प्रश्न के जवाब में कहा – हमें उम्मीद है कि ये देश खुलेपन और समावेशी नज़रिये का ध्यान रखेंगे, ताकि सबका भला हो।

इसके अलावा ये किसी ‘एक्सक्लूसिव ब्लॉक’ को बनाने से बचेंगे और उन्हीं कामों को करेंगे जो क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के अनुकूल हैं।

कुछ चीनी विशेषज्ञों ने कहा है कि क्वॉड की बैठक को ज़्यादा गंभीरता से लेने की ज़रूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें:

दुल्हन ने 5 महीने तक नहीं मनाई सुहागरात, मेडिकल जांच के बाद परिजनों को उड़े होश