स्टेमिना को बढ़ाने में बहुत मदद करती है यह चाय

चाय एक ऐसा नशा हैं जिसको पिने के बाद चेहरे पर ताजगी आ जाती हैं और काम करने में स्फूर्ति रहती हैं। लेकिन कई बार जरुरत से ज्यादा चाय भी नुकसान पंहुचा सकती हैं इसलिए आप चाय की बजाय सौंफ की चाय पिए यह आपके स्वास्थ्य को ठीक रहने में काफी मददगार साबित होती हैं। आईये जानते हैं सौंफ की चाय पीने के फायदे।

सौंफ की चाय में एंटीऑक्सीडेंट्स, अमीनो एसिड, विटामिन ए, बी कॉप्लेक्स, विटामिन सी और डी होता है, जो कि हमारे शरीर के स्टेमिना को बढ़ाने में मदद करता है।

-यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की समस्या का उपचार करने के साथ ही हमारे पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाने में मदद करती है।

-यह हमारी श्वसन प्रणाली में वाली बाधाओं को रोकने में मदद करती है। इसी के साथ यह ब्रोन्कियल मार्ग और श्वसन संबंधित विकारों को प्रभावी ढंग से दूर करती है।

-सौंफ की चाय हमारे हदृय को भी स्वस्थ बनाने में मदद करता है। इसमें पोटेशियम होता है जो कि आपके ब्लड प्रेशर और हाइपरटेंशन को नियंत्रित करने में मदद करता है।

-महीलाओं में मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द को भी यह चाय कम करने में मदद करती है।

-इसमें होने वाले एंटीमाइक्रोबल गुण के कारण यह हमारे मसूड़ों के स्वास्थ्य को ठीक करती है।

-इसमें अद्भुत एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इंफ्लामेटोरी और एंटीमाइक्रोबल गुण होते हैं जो कि हमारे इम्यून सिस्टम को बेहतरीन बनाने में मदद करते है।

-यह हमारे शरीर में आंतरिक कीड़ों को खत्म करके उन्हें बाहर निकालने में मदद करती है।

-सौंफ की चाय गठिया के दर्द को कम करती है। इसमें होने वाले सुपरऑक्साइड डिसूटोसेज के कारण जोड़ों की सूजन कम होती है।

-सौंफ में विटामिन सी होता है, जो हमारी आंखों के विजन को बढ़ाने में मदद करता है। आप चाहें तो इसे एक आई ड्रॉप की तरह भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

-सौंफ के बीजों में एंटी इंफ्लामेटोरी गुण होते हैं, जो कि हमारी त्वचा से निकलने वाले ऑयल को निकालने में मदद करते हैं। जिससे मुंहासे होने का खतरा कम हो जाता है।

हो जाएं सावधान अगर आप भी पीते हैं स्टायरोफोम के कप में चाय