जिन्हें सनातन धर्म का सम्मान नहीं है, उन्हें घाटों और मंदिरों में नहीं आना चाहिए

गंगा के किनारे वाराणसी के घाटों में गैर-हिंदुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने वाले पोस्टर दीवारों पर चिपकाये गए हैं। पोस्टर पर लिखा है कि मां गंगा काशी के घाट व मंदिर सनातन धर्म, भारतीय संस्कृति श्रद्धा व आस्था का प्रतीक है। जिनका आस्था सनातन धर्म में हो उनका स्वागत है। अन्यथा यह क्षेत्र पिकनिक स्पॉट नहीं है।

बजरंग दल के सदस्य ने कहा कि इन पोस्टरों के माध्यम से घाट को पिकनिक स्पॉट मानने वालों को स्पष्ट संदेश दिया गया है। उन्होंने कहा, ‘हम उन्हें गंगा के घाटों से दूर रहने की चेतावनी दे रहे हैं, क्योंकि यह पिकनिक स्थल नहीं बल्कि सनातन संस्कृति का प्रतीक है।

हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने कहा कि जिन्हें सनातन धर्म का सम्मान नहीं है। उन्हें घाटों और मंदिरों में नहीं आना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘अगर वे सनातन धर्म का सम्मान करते हैं तो हम उनका स्वागत करेंगे।’ गौरतलब है कि हर साल बड़ी संख्या में विदेशी पर्यटक वाराणसी आते हैं। वह घाटों पर समय बिताते हैं।

यह भी पढ़ें:

एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडिस के गले पर दिखा लव बाइट, सुकेश चंद्रशेखर के साथ एक और इंटीमेट तस्‍वीर आई सामने