थायराइड जानलेवा हो सकता है, लीजिए डॉक्टर से परामर्श

अगर वक्त रहते थायराइड का इलाज नहीं करवाया गया तो यह जानलेवा साबित हो सकता हैं। दुनिया में हार्ट अटैक तथा स्ट्रोक तमाम रोकथाम और इलाज के बावजूद मौत का बड़ा कारण बना हुआ है। इसलिए इन रोगों की और वजहों की पहचान बड़ी उपलब्धि है।

-थायराइड हार्मोन का उच्च स्तर दिल की अच्छे स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। —इसके चलते हृदय रोग की चपेट में जाने के साथ ही हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। इसके प्रति नए अध्ययन में आगाह किया गया है।

-शोधकर्ताओं के मुताबिक एथ्रोस्क्लेरोसिस के चलते धीरे-धीरे हृदय की धमनियां सख्त और संकरी होती जाती हैं। इसके चलते खून का प्रवाह अवरुद्ध होने लगता है। इससे हृदय रोग का खतरा बढ़ने लगता है।

-नीदरलैंड के शोधकर्ता अर्जोला बानो ने कहा कि दुनिया में हार्ट अटैक तथा स्ट्रोक तमाम रोकथाम और इलाज के बावजूद मौत की बड़ी वजह बनी हुई है। इसलिए इन रोगों की और वजहों की पहचान बड़ी उपलब्धि है।

-नए अध्ययन में पाया गया है कि मेटाबोलिज्म के नियंत्रण के लिए थायराइड ग्रंथि से होने वाले फ्री थायरोक्सिन (एफटी4) का उच्च स्तर पर स्राव से रोगियों में हृदय रोग का खतरा बढ़ सकता है।

-थायराइड हार्मोन की निगरानी से इस बीमारी के खतरे के रोकथाम में सहायता मिल सकती है।

यह भी पढ़ें-

फिटकरी कीजिए यूज, होगी स्किन की ये समस्याएं दूर