चीन से कारोबार समेटगी वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक, यह है बड़ी वजह

भारत में बैन किये जाने के बाद चीनी वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। चीनी सरकार का वैश्विक स्तर पर अन्य देशों के खिलाफ आक्रामक रवैया उसके यहां स्तिथ कंपनियों को भारी पड़ रहा है जिसमें टिकटॉक का नाम भी शामिल है। टिकटॉक ऐप की मालिकाना हक वाली कंपनी बाइटडांस लिमिटेड ने चीन से अपना कारोबार समेटने की तैयारियां कर ली है। कंपनी टिक टॉक कारोबार के कॉर्पोरेट ढांचे में परिवर्तन पर विचार कर रही है।

कंपनी ने हाल ही में एक्जीक्यूटिव्स की बैठक आयोजित की। जिसमें टिकटॉक के लिए एक नया प्रबंधन बोर्ड बनाने और चीन के बाहर ऐप के लिए एक अलग मुख्यालय स्थापित करने जैसे विकल्पों पर चर्चा की गई। वैश्विक आधार पर टिकटॉक अपना नया हेडक्वार्टर खोलना चाहता है जिसके लिए वह कई जगहों को लेकर विचार कर रहा है। फिलहाल इसके पांच सबसे बड़े कार्यालय लॉस एंजिल्स, न्यूयॉर्क, लंदन, डबलिन और सिंगापुर में स्तिथ है।

बता दे चीन द्वारा नया नेशनल सिक्योरिटी लॉ लाने के बाद टिकटॉक ने हांगकांग के मार्केट से पहले ही हटने का फैसला कर लिया है। वही दूसरी तरफ टिकटॉक की मुसीबतें भी कम होने का नाम नहीं ले रही है। भारत के बाद अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में भी टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है।

यह भी पढ़े: फिल्म ‘कृष 4’ के लिए ऋतिक ने शाहरुख खान से मिलाया हाथ, इस किरदार की होगी वापसी
यह भी पढ़े: ब्लडप्रेशर चेक करने का सही समय जानते हैं क्या आप