बढ़ानी है आंखों की रोशनी, इस्तेमाल करें करी का पत्ता

करीपत्ते का इस्तेमाल अक्सर लोग अपने खाने में करते हैं। खासतौर से, साउथ इंडियन डिशेज में इसका प्रयोग काफी मात्रा में किया जाता है। यह तो आप जानते ही हैं कि करीपत्ता आपके भोजन के स्वाद को कई गुना बढ़ा देता है। लेकिन यह आपके स्वाद के साथ-साथ सेहत का भी भरपूर ख्याल रखता है। अगर किसी की आंखें कमजोर हैं या आपको अपनी आंखों की रोशनी को बनाए रखना है तो आप करीपत्ते का इस्तेमाल करें। तो चलिए जानते हैं करीपत्ते से होने वाले कुछ बेमिसाल फायदों के बारे में-

  • कढ़ी पत्ता हमारी आंखों की ज्योति बढ़ाने में फायदेमंद है। साथ ही कैटरैक्ट यानी मोतियाबिंद जैसी बीमारी को भी दूर करती है।
  • पेट में गड़बड़ी होने पर कढ़ी पत्ते को पीस छाछ में मिलाकर खाली पेट लेने पर आराम मिलता है।
  • करीपत्ता आपके बढ़ते वजन को भी नियंत्रित करने में मददगार है। अगर आप अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं तो रोज कुछ पत्तियां चबाएं।
  • डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए सुबह दस ताजे कढ़ी पत्तों का सेवन नियमित रूप से तीन महीने तक करें।
  • दस्त, पेचिश और बवासीर में नरम कढ़ी पत्तियों को शहद के साथ लेने पर आराम मिलता है।
  • कढ़ी पत्ता बालों के लिए किसी औषधि से कम नहीं है। को नारियल के तेल में काला होने तक गर्म करें। इस तेल को बालों की जड़ों में लगाने से बाल मुलायम और चमकीले होंगे।

पान का पत्ता सर्दी-जुकाम में है लाभकरी !