बच्चे की बढ़ानी है याददाश्त, तो बस करें यह छोटे-छोटे काम

Thoughts of children against the black chalkboards

हर माता-पिता की यह दिली ख्वाहिश होती है कि उनका बच्चा सबसे आगे हो। जीवन में सफल होने के लिए उसका माइंड भी उतना ही तेज होना भी जरूरी है। वैसे तो खान-पान से बच्चे का दिमाग एक्टिव होता है, लेकिन इससे अलग भी ऐसी कई एक्टिविटीज होती हैं जो उसके माइंड को शार्प करने का काम करती हैं। तो चलिए जानते हैं ऐसी ही कुछ एक्टिविटीज के बारे में-

  • कभी-कभी बच्चों के साथ नई जगह पर घूमने जाएं और वहां के बारे में बारीकी से उन्हें बताएं। इतना ही नहीं, वापिस आकर उनसे पूछे कि उस जगह पर क्या-क्या खास था। इससे बच्चे की मैमोरी तेज होगी और वह हर चीज को अपने दिमाग में रखेगा। साथ ही उसे नई जगह व चीजों का ज्ञान बेहद आसानी से हो जाएगा।
  • याददाश्त बढ़ाने के लिए बच्चे के साथ मिलकर लेफ्ट-राइट एक्सरसाइज करें। इसमें आप बच्चे के सामने कई सारे खिलौने या गेंद आदि रखें और उसे उन खिलौनों को दाईं या बाईं और रखने के लिए कहें। लगातार इस तरह के एक्सरसाइज से बच्चे की मानसिक सतर्कता और याददाश्त मजबूत होगी।
  • बच्चे की याददाश्त बढ़ाने के लिए आप किचन के कामों में उसकी मदद लें। कुकिंग से जुड़े छोटे-छोटे काम करवाएं। इससे बच्चों को ज्ञान हो जाएगा कि कौन सी चीज कहा रखी है। फिर कल को वहीं चीजों बच्चे से किचन से मंगवाए। इससे बच्चे की याददाश्त बढ़ेगी और वह चीजों को याद रखने की क्षमता रखेगा।