मलेरिया से बचने में सहायक है टूथपेस्ट, जानिये कैसे!

अभी हाल ही में लंदन में हुए एक रिसर्च में यह पता चला है कि टूथपेस्ट, साबुन और डिटरजेंट में एक ऐसा तत्व पाया जाता है, जो मलेरिया के कीटाणुओं से लड़ने में पूरी तरह सक्षम होता है। रोबोट वैज्ञानिक ईव की अगुआई में हुए रिसर्च के मुताबिक, टूथपेस्ट में पाया जाने वाला ट्राइक्लोजन नामक तत्व मलेरिया परजीवी विशेषकर DHFR नामक एक एंजाइम पर हमला कर उसकी वृद्धि को पूरी तरह रोकता है।

मलेरियारोधी दवाई पिरिमेथामाइन मुख्यत: DHER पर हमला करती है। अफ्रीका में इस दवाई का मलेरिया परजीवियों पर सामान्य असर पड़ता है। शोधकर्ताओं ने यह साबित किया कि ट्राइक्लोजन मलेरिया के उन परजीवियों पर भी पूरी तरह कारगर साबित हुआ जो पिरिमेथामाइन से लड़ने में सक्षम थे।

टूथपेस्ट में ट्राइक्लोजन होने पर यह यकृत में वसा अम्ल को बनाने में सहायक इनोयल रिडक्टेज (ENR) नामक एक एंजाइम को पूरी तरह निष्क्रिय कर प्लेग के जीवाणु को बनने से रोकता है। शोधकर्ताओं ने यह कहा कि जैसा कि ट्राइक्लोजन ENR और DHER को सीधे प्रभावित करता है। इसलिए इसका यकृत और रक्त पर भी प्रभाव पड़ने की प्रबल संभावना है। अफ्रीका और दक्षिण-पूर्व एशिया में मलेरिया के कारण प्रतिवर्ष तकरीबन 5 लाख से भी ज्यादा लोगों की मौत हो जाती है।