प्रेग्नेंसी के दौरान कर रही हैं ट्रैवेलिंग, तो इन नुस्खो को न करें नजरअंदाज

गर्भावस्था स्त्री के जीवन का एक ऐसा समय होता है, जब स्त्री को अपना अधिक ख्याल रखना होता है। इस दौरान उससे हुई एक छोटी सी भी चूक उसके गर्भस्थ शिशु को काफी नुकसान पहुंचा सकती है। वैसे तो इस अवस्था में स्त्री कहीं भी ट्रैवेलिंग करना कम ही पसंद करती है, लेकिन फिर भी अगर आप बाहर जा रही हैं तो कुछ बातों का खास ख्याल रखें। ताकि सफर के दौरान आपको व आपके होने वाले बच्चे को किसी प्रकार की परेशानी न हो-

  • अगर आपका बाहर घूमने का प्लाॅन बन रहा है तो उस प्लाॅन को फाइनल करने से पहले एक बार डाॅक्टर की सलाह अवश्य लें। अगर वह सहमत हों तो उनकी बताई गई दवाईयों का अतिरिक्त स्टाॅक साथ में लेकर जाएं। साथ ही अपनी प्रेग्नेंसी की फाइल भी अपने साथ कैरी करें ताकि किसी भी आपातकालीन स्थिति में आप वहां पर डाॅक्टर से संपर्क कर सकें।
  • अगर आपकी प्रेग्नेंसी को 4 माह से अधिक समय हो गया है और ट्रेन में सफर कर रही हैं तो 2 टियर या 3 टियर में ही यात्रा करें। रिजर्वेशन करवाते वक्त लोअर बर्थ ही चुनें। इससे आपको मिडिल और अपर बर्थ में चढ़ने से होने वाला खतरा भी नहीं होगा।
  • डॉक्टर से सलाह लेते वक्त यात्रा के लिए अपना एक डाइट चार्ट बनवा लें। इससे ये ध्यान रहेगा कि कितने अंतराल में क्या खाना है। घर का बना स्नैक्स अपने साथ रखें, बाहर की चीजें खाने से बचें।
  • यात्रा लंबी है तो आपनी रूचि के अनुसार एक किताब जरूर साथ रख लें। जब भी बोर होने लगें तो किताब पढ़ें। आप अच्छा महसूस करेंगी।
Loading...