प्रेग्नेंसी में कर रही हैं ट्रैवलिंग, तो इन बातों का रखें खास ध्यान

प्रेग्नेंसी यकीनन किसी भी महिला के लिए काफी नाजुक दौर होता है। इस दौरान उसे अपनी हेल्थ का ज्यादा ध्यान देना पड़ता है। खासतौर से, इस दौरान ट्रैवलिंग करने के लिए मना ही किया जाता है क्योंकि सफर के दौरान आपको स्वस्थ डाइट नहीं मिल पाती, जिसके कारण आपको उल्टी, जी मचलाना, सिर में दर्द की समस्या से लेकर मिसकैरिज तक हो सकता है। लेकिन अगर आपको ट्रैवलिंग करनी है तो आप कुछ बातों का विशेष रूप से ध्यान दें। तो चलिए जानते हैं कि किन तरीकों से करें आप प्रेग्नेंसी में भी सेफ ट्रैवलिंग-

  • अगर आप सफर पर जा रही हैं तो कोशिश करें कि आपका सफर बहुत ज्यादा लंबा न हो। इसके अतिरिक्त ट्रैवल के दौरान अपने साथ ढेर सारा पानी रखें ताकि यात्रा के दौरान शरीर में पानी की कमी न हो।
  • प्रेग्नेंसी के दौरान जहां तक संभव हो, हवाई यात्रा से परहेज करना चाहिए। लेकिन अगर किन्हीं कारणों से हवाई यात्रा करनी पड़े तो आपको गर्भावस्था के 14 से 28 सप्ताह के बीच ही यात्रा करनी चाहिए। इससे पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
  • वहीं अगर आप कार में ट्रैवलिंग कर रही हैं तो बहुत ज्यादा सिकुड़कर न बैठें बल्कि पैर फैलाते हुए इस तरह से बैठें जिससे आप पैर को आसानी से हिला सकें और ऐंठन या अकड़न होने पर आपको अपना पॉस्चर बदलने में दिक्कत न हो।
  • अगर आपने बाहर जाने का प्लाॅन कर ही लिया है तो पहले आप अपने डाॅक्टर से अवश्य मिलें और उनके द्वारा दिए गए हर निर्देश का सख्ती से पालन करें।
  • इसके अतिरिक्त आप अपने साथ अपनी दवाईयों का अतिरिक्त स्टाॅक साथ लेकर जाएं। साथ ही आप अपनी उस फाइल को भी बैग में जगह दें, जिसमें आपकी पूरी प्रेग्नेंसी की जानकारी है। किसी भी अप्रिय स्थिति में आपको इस फाइल की आवश्यकता पड़ सकती है। वहीं डाॅक्टर का पर्सनल नंबर व क्लिनिक का नंबर भी आपके पास अवश्य होना चाहिए।