बिना पेट दर्द के मूल कारण जाने उपचार करना हो सकता है घातक

पेट दर्द के लिए कभी भी अपने मन से दवाई नही लेना चाहिए। डॉक्टर से पेट दर्द का मूल कारण जानने के बाद ही घरेलू उपचार अपनाएँ।

सिरदर्द और पेटदर्द सामान्य लक्षणों की श्रेणी में आते हैं परन्तु कारण का बहुत जल्द पता लगाना बहुत महत्वपूर्ण होता है। इससे उपचार सफल तरीके से किया जा सकता है।

लक्षण ख़तम हो जाने पर एंटीबायोटिक्स लेना कतई बंद न करें। ठीक होने के बाद भी उपचार पूरी तरह लें। अच्छी तरह नहीं खाने पर एसिडिटी की गंभीर समस्या हो सकती है। ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जो आसानी से पच जाएँ।

इंफेक्शन के कारण आपको पेट दर्द होने पर आपके शरीर को अतिरिक्त उर्जा की आवश्यकता होती है। अत: जब आपको पेट दर्द की समस्या हो तो आपको पर्याप्त आराम करने के सलाह भी दी जाती है।