बुलेट ट्रेन की गति से विकास कराती है ट्रिपल इंजन की सरकार: योगी

गोरखपुर,(एजेंसी/वार्ता): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार शाम को गोरखपुर में 1822 करोड़ रुपये की चार प्रमुख परियोजनाओं का शिलान्यास करते हुए कहा कि ट्रिपल इंजन की सरकार बुलेट ट्रेन की गति से विकास कराती है।

श्री योगी ने आज गोरखपुर में 1822 करोड़ रुपये की लागत वाली फ्लाईओवरए फोरलेन, जलनिकासी और सीवरेज से जुड़ी चार प्रमुख विकास परियोजनाओं के शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र और राज्य में समान विचारधारा की डबल इंजन की सरकार होने से ही उत्तर प्रदेश में तीव्र गति से विकास संभव हो पा रहा है।

उन्होंने कहा कि जब स्थानीय स्तर पर भी उसी पार्टी की समान विचारधारा की सरकार होती है तो ट्रिपल इंजन की सरकार बुलेट ट्रेन की रफ्तार से विकास कार्यों को आगे बढ़ाती है। गोरखपुर में ऐसी ही ट्रिपल इंजन की सरकार है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर जिले में सभी नौ विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष और महापौर भाजपा का होने का ही परिणाम है कि यहां द्रुत गति से विकास कार्य आगे बढ़ रहे हैं और हम सबको यह सुनिश्चित करना होगा कि विकास की यह गति थमने न पाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास कार्यों के लिए पैसों की कोई कमी नहीं है। विकास की प्रक्रिया से जुड़ना, हो चुके कार्यों का संरक्षण करना और जो हो रहा है उसे समयबद्ध ढंग से आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी नागरिकों की भी है। विकास का कोई विकल्प नहीं होता। विकास से ही नागरिकों के जीवन में परिवर्तन आता है, रोजगार का सृजन होता है। उन्होंने कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी परियोजनाओं में मानक एवं गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए इन्हें समयबद्ध तरीके से पूर्ण करें।

श्री योगी ने कहा कि पहले माफिया अराजकता और अव्यवस्था के लिए बदनाम गोरखपुर को प्रदेश सरकार ने विकास के मॉडल के रूप में प्रस्तुत किया है। वर्ष 2017 के पहले तक यहां का स्वास्थ्य तंत्र चरमराया हुआ था। आज यहां एम्स है, बीआरडी मेडिकल कॉलेज में सुपर स्पेशियलिटी सेवाएं हैं। वर्ष 1990 में बंद खाद कारखाना की जगह नया कारखाना 105 प्रतिशत की दर से खाद उत्पादन कर रहा है। यह अन्नदाता किसानों के लिए रामबाण का काम कर रहा है। खाद कारखाना परिसर में ही सैनिक स्कूल बन रहा है जो अगले सत्र में प्रारम्भ हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि गोरखपुर में हर मार्ग फोरलेन है तो गोरखपुर, लखनऊ मार्ग सिक्सलेन होने जा रहा है। गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन से वाराणसी की दूरी ढाई तीन घण्टे में सिमट गई है। सड़कों की कनेक्टिविटी से जाम की समस्या का भी समाधान हो रहा है। गोरखपुर में शानदार एयर कनेक्टिविटी भी उपलब्ध है। यहां से दिल्ली-मुंबई-बेंगलुरु आदि प्रमुख शहरों के लिए 14 उड़ान सेवाएं हैं। सरकार यहां नए एयरपोर्ट के लिए की धनराशि उपलब्ध करा रही है। उन्होंने कहा कि आठ-दस साल पहले तक अपराध का गढ़ रहा रामगढ़ताल सबसे सुंदर स्थल के रूप में विकसित हुआ है। यहां अब फिल्मों की शूटिंग हो रही है। गोरखपुर में चार विश्वविद्यालय क्रियाशील हैं। एम्स और मेडिकल कॉलेज के साथ ही यहां बड़ी संख्या में अस्पताल और हजारों निजी चिकित्सकों की सेवाएं उपलब्ध हैं। गोरखपुर शिक्षा व चिकित्सा का हब बन चुका है। गोरखपुर में निवेश आ रहा है। स्थानीय युवाओं को यहीं नौकरी और रोजगार मिल रहा है तो देश दुनिया के लोग भी नौकरी और रोजगार के लिए यहां आ रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने गोरखपुर के नागरिकों के सहयोग की सराहना करते हुए कहा कि यहां के नागरिकों ने विकास कार्यों में कभी बाधा नहीं डाली। जब भी सड़कों के चौड़ीकरण की बात आई तो लोग अपने घरों-प्रतिष्ठानों के हिस्से को देने के लिए तैयार हो गए। असुरन-मेडिकल कॉलेज फोरलेन, एयरफोर्स, सर्किट हाउस फोरलेन, मोहद्दीपुर, जंगल कौड़िया फोरलेन इसका प्रमाण है।

गोरखपुर सीवरेज योजना जोन सी पार्ट-2 की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके अंतर्गत जंगल बेनीमाधव, पुराना गोरखपुर, कल्याणपुर, सिविल लाइंस, रामजानकी नगर, चक्सा हुसैन, जनप्रिय विहार, सूर्यकुंड समेत 21 वार्डों के लिए सीवरेज नेटवर्क तैयार किया जाएगा। शहर में 188 किमी सीवर लाइन बिछाते हुए 44 हजार घरों को सीवर कनेक्शन उपलब्ध कराया जाएगा।

इस अवसर पर शिलान्यास समारोह में सांसद रविकिशन शुक्ल ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विरोधियों के पास अब बोलने के लिए कुछ नहीं है। उन्होंने विकास कार्यों से विरोधियों की बोलती बंद कर दी है। उनके नेतृत्व में गोरखपुर में इतना विकास हुआ है कि अब सब लोगों का सपना है गोरखपुर में रहना। कार्यों के दम पर ही गुजरात के चुनाव में भी योगी जी की जय जयकार हो रही है।

श्री शुक्ल ने योगी के नेतृत्व में कानून व्यवस्था में अभूतपूर्व बदलाव की चर्चा करते हुए कहा कि आज किसी गुंडे-माफिया की हिम्मत नहीं है कि वह किसी की जमीन कब्जा कर ले या किसी कारोबारी से रंगदारी मांग ले।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने पीएम स्वनिधि योजना, प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री आवास योजना, आयुष्मान भारत योजना, कृषि एवं उद्यान विभाग की तरफ से संचालित योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने शिलान्यास से पहल लोक निर्माण विभाग, जलनिगम और सेतु निगम द्वारा लगाए गए प्रोजेक्ट स्टालों का भी निरीक्षण किया।

इस अवसर पर महापौर सीताराम जायसवालए भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं एमएलसी डॉ धर्मेंद्र सिंहए विधायक महेंद्रपाल सिंहए विपिन सिंहए फतेह बहादुर सिंहए श्रीराम चौहानए डॉ विमलेश पासवानए प्रदीप शुक्लए भाजपा के जिलाध्यक्ष युधिष्ठिर सिंहए महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

-एजेंसी/वार्ता

यह भी पढ़ें:-क्या आप लेमन, कॉफी और गर्म पानी से अपना वजन कम कर सकते हैं?