ट्रंप सरकार ने बढ़ाई ड्रेगन की टेंशन, डॉलर सिस्टम से बाहर हो सकता है चीन

कोरोना वायरस की वजह से चीन और अमेरिका के रिश्तों में काफी तल्खी आ गई है। ऐसे में अमेरिका एक के बाद एक टेंशन चीन को दे रहा है। जानकारी के मुताबिक अमेरिका अब चीन को यूएस डॉलर सिस्टम (SWIFT) से बाहर करने पर विचार कर रहा है। ट्रंप सरकार चीन के एक्सेस में कटौती कर सकती है। यह खबर चीनी अखबार साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट में छपी है, जिसमें लिखा है कि ट्रंप सरकार के इस संभावित कदम को लेकर बीजिंग काफी टेंशन में है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे सोसायटी फॉर वर्ल्डवाइड इंटरबैंक फाइनैंशल टेलिकॉम्युनिकेशन (SWIFT) एक नेटवर्क है जिसका इस्तेमाल दुनियाभर के बैंक वित्तीय लेनदेन की जानकारी देने और प्राप्त करने के लिए करते है। यह उस इन्फ्रास्ट्रक्चर का हिस्सा है जिसकी वजह से अमेरिकी डॉलर की भूमिका अंतरराष्ट्रीय व्यापार और निवेश में काफी अहम हो जाती है। दुनियाभर के बैंक अमेरिकी बैंकों के जरिये अमेरिकी डॉलर ट्रांसजेक्शन करते हैं।

इस सिस्टम के माध्यम से वॉइट हाउस अमेरिकी बैंकों को किसी व्यक्ति, संस्था या देशों से लेनदेन रोकने का आदेश दे सकता है। शिनजियांग और हांगकांग को लेकर दुनियाभर में घिर चुके चीन की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी टेंशन में है। अब देखना होगा कि अमेरिका इस प्रकार का कदम उठाता है या नहीं।

यह भी पढ़े: सरकारी कंपनियों में चीन और पाकिस्तान की सेवाएं लेने पर लगा पूर्ण प्रतिबंध
यह भी पढ़े: भूटान के सामने नहीं गल रही चीन की दाल, मजबूती से ढाल बनकर खड़ा भारत