सेहत के लिए हल्दी और तेल होता है फायदेमंद, ऐसे कीजिए सेवन

 लापरवाही से आपकी सेहत बिगड़ सकती है, इसलिए रोग का पता लगते ही उसका शीघ्र इलाज करवाना चाहिए। हर घर में खाने में हल्दी और सरसों के तेल का प्रयोग तो किया जाता है। इसका प्रयोग न सिर्फ खाने के लिए बल्कि आयुर्वेद में भी प्रयोग किया जाता है।

हमारी सेहत के लिए यह बेहद ही लाभदायक और कई गंभीर बीमारियों से बचाने में मदद करता है। आयुर्वेद में तेल और हल्दी के मिश्रण से मिलने वाले स्वास्थवर्धक फायदों के बारे में बताया गया है। चलिए जानते हैं कि कैसे हल्दी और तेल को मिलाकर सेवन करने से क्या-क्या फायदे मिल सकते हैं?

ऐसे बनाएं तेल-हल्दी का पेस्ट
आपको बता दें कि तेल और हल्दी का पेस्ट बनाना बहुत ही आसान काम है। आप तेल और हल्दी का पेस्ट अपने घर पर ही बना सकते हो। एक चम्मच हल्दी में आप 2 चम्मच सरसों के तेल को मिला लीजिए और इसे हल्का गुनगुना कीजिए, और इसका रेगुलर सेवन कीजिए।

ये होंगे हल्दी और तेल से फायदे

-हार्ट अटैक : हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारी की मुख्य वजह है शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर का बढऩा। यदि आप नियमित रूप से हल्दी तथा तेल के मिश्रण का सेवन करते हैं तो आप हार्ट की बीमारी से बच सकते हैं।

-कैंसर : कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचने के लिए और कैंसर को बढऩे से रोकने के लिए हल्दी तथा तेल से बना पेस्ट बहुत ही फायदेमंद होता है। जब हल्दी और तेल आपस में मिलते हैं तब इसमें एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक हो जाती है। जिससे कैंसर की रोकथाम आसानी से हो सकती है।

-बदन दर्द और सूजन : यदि आप शरीर के दर्द या बदन दर्द से परेशान हैं तो हल्दी और तेल से बने मिश्रण का सेवन कीजिए। ऐसा करने से शरीर का दर्द कम होता है। इसके अलावा यह मिश्रण सूजन और दर्द को खत्म कर देता है।

-अस्थमा : वह लोग जो अस्थमा की समस्या से ग्रसित हैं उन्हें तेल और हल्दी के मिश्रण का सेवन करना चाहिए। इससे अस्थमा की बीमारी में बहुत फायदा मिलता है।

-चेहरे की रौनक : हल्दी और तेल के मिश्रण का नियमित सेवन करने से आप त्वचा से सबंधित कई तरह की बीमारियों से बच सकते हो। जिससे आपके चेहरे की रौनक भी बढ़ती है।

-पेट और कब्ज की समस्या होगी दूर : अक्सर लोग कब्ज और गैस से परेशान रहते हैं। इसके लिए यदि आप तेल और हल्दी से बने मिश्रण का सेवन करते हो तो आपको कब्ज और पेट की कई तरह की बीमारियों से राहत मिल सकती है।

यह भी पढ़ें-

अपनाएं ये तरीकें अगर बच्चों को खिलाना है खाना