IPL के 13वें सीजन को लेकर BCCI में बने दो गुट, आयोजन स्थल पर नहीं बन पा रही एक राय

आईपीएल के 13वें सीजन के आयोजन पर अभी भी संकट के बादल मंडरा रहे है। कोरोना वायरस के चलते आईपीएल का आयोजन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया गया है। लेकिन स्तिथि सुधरने तक बीसीसीआई लगातार नजर बनाये हुए है। संभव है स्तिथि सुधरने पर आईपीएल का आयोजन करवाया जाये। इसके अलावा इस बात को लेकर भी असमंजस की स्तिथि बनी हुई है कि आईपीएल भारत में कराया जाये या फिर विदेश में, यह भी चर्चा का विषय है।

आईपीएल के वेन्यू को लेकर बीसीसीआई 3-2 में बंट गया है। हालांकि, बहुमत आईपीएल का आयोजन भारत में ही कराने को लेकर है। लेकिन कई पक्ष ऐसे है जो इस टूर्नामेंट को आवश्यकता पड़ने पर विदेश में कराने के बारे में विचार कर रहे है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि आईपीएल के आयोजन को लेकर आम सोच भारत में ही टुर्नामेंट कराने की है। लेकिन कुछ ऐसे भी लोग है जो चाहते है कि जरुरत पड़ने पर इसका आयोजन विदेश में हो जाए।

उन्होंने कहा, खिलाड़ियों की सुरक्षा और सभी लोगों की सुरक्षा भी हमारी प्राथमिकता है।’ फ्रेंचाइजी के एक अधिकारी ने कहा कि देश में टूर्नामेंट का आयोजन हमेशा प्राथमिकता होनी चाहिए। बीसीसीआई अधकारी के मुताबिक यदि टूर्नामेंट विदेश में जाता है तो यह महंगा हो जायेगा। और यदि इसका आयोजन देश में होता है तो सकारात्मक सन्देश जायेगा और भारत के लोगों को भी विश्वास हो जायेगा कि हम चीजों को सामान्य करने में सफल रहे है।

यह भी पढ़े: अभिनेता राजेश करीर के बैंक खाते में इकट्ठे हुए 12 लाख रुपये, सोशल मीडिया पर मांगी थी मदद
यह भी पढ़े: कोरोना प्रभावित सूची में 5वें नंबर पर पहुंचा भारत, 2 लाख 43 हजार से अधिक हुए मरीज