पुतिन पर दबाव के लिए यूक्रेन को और हथियारों की जरूरत : ब्रिटेन

ब्रिटेन की विदेश मंत्री लिज़ ट्रस ने शुक्रवार को कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर ‘दबाव बनाए रखने’ के लिए यूक्रेन को और हथियारों की जरूरत है। जर्मनी के वीसेनहॉस में जी 7 विदेश मंत्रियों की बैठक से पहले सुश्री ट्रस ने कहा, “इस समय यह बहुत महत्वपूर्ण है कि हम प्रतिबंधों को बढ़ाकर तथा यूक्रेन को और हथियारों की आपूर्ति करके व्लादिमीर पुतिन पर दबाव बनाए रखें।”

सीएनएन ने विदेश मंत्री के हवाले से कहा,“इस संकट के दौरान स्वतंत्रता और लोकतंत्र की रक्षा के लिए जी7 एकता महत्वपूर्ण रही है। ” उन्होंने इस संदर्भ में जी7 देशों ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान और अमेरिका के बीच संबंधों का भी जिक्र किया।

इस बीच यूक्रेन के जनरल स्टाफ ने कहा है कि अज़ोवस्टल संयंत्र के पास यूक्रेनी सैनिकों को अवरुद्ध करते हुए रूसी सेना ने ‘मारियुपोल पर तोपखाने और हवाई हमले करना’ जारी रखा है। उन्होंने कहा,“शहर पर पूर्ण नियंत्रण स्थापित करने और यूक्रेनी रक्षकों के प्रतिरोध को दबाने के लिए रूस रणनीतिक विमानन का उपयोग करता है। स्थानीय निवासियों की निकासी को देखते हुए निकट भविष्य में गोलीबारी में वृद्धि की उम्मीद की जानी चाहिए।”

सीएनएन के अनुसार अज़ोवस्टल में लगभग दो महीने से रूसी सेना की ओर से लगातार गोलाबारी की जा रही है। एक यूक्रेनी अधिकारी ने कहा कि शीघ्र की सभी फंसे हुए नागरिकों को बाहर निकाले जाने की संभावना है।

यह भी पढ़े: रानिल ने भारत के साथ बेहतर संबंधों का किया वादा