उमेश कोल्हे हत्याकांड के आरोपी को 7 जुलाई तक NIA की कस्टडी, उदयपुर कांड की तरह की थी हत्या

अमरावती हत्याकांड (Amravati Murder Case) के मुख्य साजिशकर्ता इरफान शेख (Irfan Sheikh) को 7 जुलाई तक NIA की कस्टडी में भेज दिया गया है. पुलिस ने बताया कि मुख्य आरोपी इरफान शेख ने उमेश कोल्हे (Umesh Kolhe Murder Case) की हत्या की साजिश रची थी और इसके लिए लोगों को शामिल किया था. इरफान शेख ने अन्य पांच आरोपियों को 10-10 हजार रुपए देने और भागने के लिए एक कार देने का वादा किया था.

उमेश कोल्हे अमरावती शहर में एक मेडिकल स्टोर चलाते थे. उन्होंने कथित तौर पर नूपुर शर्मा के समर्थन में उनकी टिप्पणियों के लिए कुछ वाट्सएप ग्रुपों पर एक पोस्ट को शेयर किया था. उन्होंने गलती से पोस्ट को एक ऐसे ग्रुप में शेयर कर दिया था, जिसमें कुछ मुस्लिम भी सदस्य थे.

पुलिस के मुताबिक, उमेश ने ब्लैक फ्रीडम नाम के ग्रुप में नूपुर शर्मा के समर्थन वाला वॉट्सएप मैसेज को शेयर किया था और उनके मैसेज अन्य वाट्सएप और सोशल मीडिया ग्रुप में शेयर कर इसे वायरल कर दिया था और फिर इरफान शेख ने उसकी हत्या की साजिश रची थी.

आपको बता दें कि अमरावती (Amravati Murder Case) में उमेश कोल्हे की उदयपुर के कन्हैयालाल साहू की तरह ही मारा है जिसके बाद गृहमंत्रालय ने NIA को इस केस की जांच सौंप दी थी औऱ अब मुख्य आरोपी को इस मामले में NIA की कस्टडी में भेज दिया गया है.

यह भी पढ़ें:

अर्जेंटीना में आर्थिक संकट , वित्त मंत्री ने दिया इस्तीफा