सोनिया गांधी के घर पर लगाया अघोषित आपातकाल : गहलोत

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस तैनात कर पूरे क्षेत्र को पुलिस छावनी में तब्दील किया गया है और कांग्रेस इसे अघोषित आपातकाल बता रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसे अघोषित आपातकाल करार देते कहा कि यह कांग्रेस के साथ मोदी सरकार की तानाशाही है और इसके खिलाफ देश की जनता को एकजुट होकर खड़ा होना पड़ेगा वरना सभी को इसका खामियाजा भुगतना होगा।

उन्होंने ट्वीट किया, “कांग्रेस मुख्यालय एवं 10 जनपथ को पुलिस छावनी बनाने की आज की कार्रवाई अघोषित आपातकाल है। नेशनल हेराल्ड (यंग इंडिया) के दफ्तर को जबरन सील कर दिया गया। एनडीए की इस तानाशाही सरकार के खिलाफ यदि कांग्रेसजनों के साथ आम जनता खड़ी नहीं हुई तो इसका खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ेगा। मीडिया इस अन्याय के खिलाफ एक शब्द बोलने की हिम्मत तक नहीं कर पा रहा है।”

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख जयराम रमेश ने कहा कि दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस मुख्यालय तथा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर को घेर लिया है। राजनीतिक प्रतिशोध का यह सबसे घृणित तरीका है। कांग्रेस इस कार्रवाई के खिलाफ चुप नहीं बैठेगी और मोदी सरकार उनकी आवाज दबा नहीं सकती है।

यह भी पढ़े: नेशनल हेराल्ड मामला: ईडी ने यंग इंडिया के कार्यालय को किया सील