Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / भारत के प्रयास सिर्फ उसकी सीमाओं तक सीमित नहीं हैं: PM मोदी

भारत के प्रयास सिर्फ उसकी सीमाओं तक सीमित नहीं हैं: PM मोदी

न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत ने जलवायु परिवर्तन के कारण होने वाले नुकसान की रोकथाम में उल्लेखनीय प्रयास किये हैं। इस वैश्विक संकट से निपटने के लिये अभी बहुत कुछ किया जाना है।

क्‍लाइमेट चेंज को लेकर दुनियाभर में अनेक प्रयास हो रहे हैं। लेकिन हमें ये बात स्‍वीकारनी होगी कि इस गम्‍भीर चुनौती का मुकाबला करने के लिए उतना नहीं किया जा रहा है जितना कि होना बहुत अनिवार्य है। आज जरुरत है एक काम्‍प्रहैंसिव अप्रोच की जिसमें एजुकेशन, वैल्‍यूज और लाइफस्‍टाइल से लेकर डवलपमैंट फिलोसॅफी भी शामिल हो। आज जरुरत है बिहेवियर चेंज के लिए एक विश्‍वव्‍यापी जन-आंदोलन खड़ा करने की।

Loading...

पीएम मोदी ने विश्व नेताओं को बताया कि भारत ने “सिंगल यूज़” प्लास्टिक का उपयोग प्रतिबंधित कर दिया है। उन्होंने अन्य देशों से भी ऐसा करने का आग्रह किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा विकल्पों के क्षेत्र में भारत ने अपनी प्रतिबद्धताएं पूरी करते हुए महत्वपूर्ण प्रगति की है। उन्होंने कहा कि सरकार ने पंद्रह करोड़ परिवारों को स्वच्छ रसोई गैस उपलब्ध कराई है। मोदी ने जल संसाधनों के विकास के लिये जल-जीवन मिशन का भी उल्लेख किया।

हमने वाटर कंजर्वेशन, रेन वाटर हार्वेस्टिंग और वाटर रिसोर्स डवलपमेंट के लिए मिशन जल जीवन शुरु किया है और अगले कुछ वर्षों में इसपर लगभग फिफ्टी बिलियन डॉलर का खर्च करने की हमारी योजना है।

पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भारत के प्रयास सिर्फ उसकी सीमाओं तक सीमित नहीं हैं। भारत ने कई अन्य देशों, विशेषकर अफ्रीकी देशों को सुलभ स्वास्थ्य देखभाल मुहैया कराने में मदद की है।

भारत के प्रयास, भारत की सीमाओं के अंदर तक ही सिमटे नहीं हैं। हमने कई देशों विशेष रूप से अफ्रीका के देशों में टेलीमेडिसिन द्वारा अफोर्डेबल हैल्‍थ केयर के एक्‍सस बनाने में सहयोग किया है और आगे भी करते रहेंगे। हमारा अनुभव और हमारी क्षमताएं सभी विकासशील देशों के लिए उपलब्‍ध हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र से अलग कई विश्व नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठकें भी कीं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *