UP में 4 साल पहले तक कहा जाता था कि यहां विकास की सोच नहीं है: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कि पिछले 4 सालों में हमने बैंक और वित्तीय संस्थाओं के द्वारा 50 लाख MSME यूनिट को ऋण उपलब्ध कराए हैं। जिससे करोड़ों लोगों को रोज़गार मिला है। इससे उत्तर प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी हुई है। बेरोज़गारी कम हुई है।

UP में 4 साल पहले तक कहा जाता था कि यहां विकास की सोच नहीं है। यहां पर लोग काम नहीं करना चाहते हैं। बैंक लोन नहीं देना चाहते थे। बैंकों को भरोसा नहीं था कि जो पूंजी हम दे रहे हैं वह सुरक्षित रहेगी की नहीं। ये सारे संशय पिछले 4 सालों में दूर किए गए है।

सीएम योगी ने कहा – मुझे खुशी है कि आज उत्तर प्रदेश देश की दूसरी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरा है। इससे प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी हुई है। 5 साल पहले तक UP में प्रति व्यक्ति आय 43,000 रुपये थी। आज उस उत्तर प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय 95,000 तक पहुंची है।

यह भी पढ़ें:

लव ज़िहाद क़ानून पर हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का बड़ा बयान