यूरिक एसिड के असंतुलन से हो सकती है गठिया जैसी समस्याएं

शरीर में यूरिक एसिड, प्यूरिन के टूटने से बनता है जो खून के माध्यम से बहता हुआ किडनी तक पहुंचता है। यूरिक एसिड, शरीर से बाहर, पेशाब के रूप में निकल जाता है। लेकिन, कभी-कभार यूरीक एसिड शरीर में ही रह जाता है और इसकी मात्रा बढ़ने लगती है। ऐसा होना शरीर के लिए घातक होता है। यूरिक एसिड के असंतुलन से ही गठिया जैसी समस्याएं हो जाती है। आज हम आपको बताएंगे यूरिक एसिड के लक्षण क्या होते हैं।

अगर आपके पैरों में और जोड़ों में लगातार दर्द रहता है तो ये यूरिक एसिड के लक्षण हैं।

अगर आपके शरीर में सूजन है तो ये यूरिक एसिड के लक्षण हैं।

एक स्थान पर देर तक बैठने पर उठने में एड़ियों में असहनीय दर्द और फिर दर्द सामन्य हो जाना ये यूरिक एसिड के लक्षण है।

Loading...