अमेरिकी संसद ‘कैपिटोल’ परिसर के बाहर ट्रंप समर्थकों का हंगामा: एक महिला की मौत, पीएम मोदी ने जताई चिंता

जब नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन की जीत को प्रमाणित करने के लिए सांसद संसद के संयुक्त सत्र के लिए कैपिटोल के भीतर बैठे थे, तभी संसद के बाहर ट्रंप समर्थकों ने हंगामा कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने कैपिटोल की सीढ़ियों के नीचे लगे अवरोधक तोड़ दिए। फायरिंग में एक महिला की मौत भी होने की खबर है।

इस पूरे मामले को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा – वॉशिंगटन डीसी में दंगों और हिंसा के बारे में जानकारी मिलने के बाद से काफी चिंतित हूं। सत्ता का हस्तांतरण क्रमबद्ध और शांतिपूर्ण तरीके से होना चाहिए। गैरकानूनी विरोध के माध्यम से लोकतांत्रिक प्रक्रिया को प्रभावित नहीं होने दिया जा सकता है।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आरोप लगाया कि इसमें धांधली हुई है और यह धांधली उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडन के लिए की गई, जो नवनिर्वाचित राष्ट्रपति हैं। ट्रंप ने वॉशिंगटन डीसी में अपने हजारों समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा , ‘जब धांधली हुई हो तब आपको अपनी हार स्वीकार नहीं करनी चाहिए।’ ट्रंप ने एक घंटे से अधिक के अपने भाषण में दावा किया कि उन्होंने इस चुनाव में शानदार जीत हासिल की है।

यह भी पढ़ें:

कोरोना की जांच कर रही WHO टीम को देश में घुसने से रोक रहा चीन, चला नया पैंतरा