US कांग्रेस ने चीनी एप्स बैन करने पर भारत को सराहा, अमेरिका में उठी बंद करने की मांग

भारत द्वारा 59 चीनी एप्स को बैन करने के फैसले को अमेरिकी कांग्रेस ने सही करार दिया है। साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप को पत्र लिखकरअमेरिका में भी चाइनीज ऐप, वेबसाइट के खिलाफ ठोस कदम उठाने की अपील की है। गौरतलब है कि अमेरिका में भी चीन से जुड़े टिकटॉक और अन्य सोशल मीडिया मंचों पर प्रतिबंध लगाने की अपील कुछ समय से की जा रही है। कहा जाता है कि इन एप्स पर चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का अधिकार है।

अमेरिकी सांसदों द्वारा ट्रंप को लिखे पत्र में कहा गया है कि लोकप्रिय चीनी एप्स लोगों की निजी जानकारी एकत्रित कर रहे है। इन एप्स के माध्यम से चीनी सरकार अमेरिकी लोगों की निजता का हनन कर रही है। सांसदों का कहना है कि एप्स के माध्यम से डेटा एकत्रित करने की प्रक्रिया चीन के उन सख्त साइबर सुरक्षा कानूनों से जुड़ी है, जिसमें चीन में काम कर रही सभी कंपनियों को सीसीपी अधिकारियों के साथ उपभोक्ता के डेटा साझा करना पड़ता है।

सांसदो ने पत्र के माध्यम से अमेरिकी लोगों की निजता और सुरक्षा की रक्षा करने के लिए चीनी एप्स पर कार्रवाई करने का अनुरोध किया। वही बुधवार को व्हाइट हाउस ने भी संकेत दिए थे कि टिकटॉक समेत चीनी मोबाइल ऐप्स पर फैसला कुछ हफ्तों के भीतर लिया जा सकता है।

यह भी पढ़े: भारत की चीन को कूटनीतिक स्तर पर जवाब देने की तैयारी, रेल परियोजना को लेकर उम्मीद जिंदा
यह भी पढ़े: 10 साल के बच्चे ने 30 सेकंड में बैंक से चोरी किये 10 लाख रुपये, जांच में जुटी पुलिस