अमेरिकी सांसदों ने ताइवान की राष्ट्रपति से सरप्राइज विजिट में की मुलाकात

अमेरिका खुलकर ताइवान को अपना समर्थन देता हुआ नजर आ रहा है. ऐसे में आ रही नई खबर के मुताबिक, पांच अमेरिकी सांसदों ने ताइवान के राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन से शुक्रवार सुबह सरप्राइज विजिट में मुलाकात की है, जिसका उद्देश्य स्वशासी द्वीप के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका के “रॉक सॉलिड” समर्थन की पुष्टि करना है.

ताइवान में अमेरिकी संस्थान, दे फक्टो एम्बेसी ने कहा, अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के सांसदों का द्विदलीय ग्रुप गुरुवार रात ताइवान पहुंचा और और वह त्साई के अलावा कई सीनियर लीडर्स से मिलने की प्लानिंग कर रहे थे. इस यात्रा कार्यक्रम के बारे में कोई और जानकारी नहीं दी गयी है.

यह यात्रा ऐसे समय में हुई है जब ताइवान और चीन के बीच तनाव दशकों में अपने सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है.1949 में गृहयुद्ध के दौरान दोनों पक्षों के अलग होने के बाद से ताइवान स्व-शासित रहा है, लेकिन चीन द्वीप को अपने क्षेत्र का हिस्सा मानता है.

प्रतिनिधि एलिसा स्लोटकिन, जो प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं, ने ट्विटर पर लिखा है, “जब कल हमारी यात्रा की खबर आई, तो मेरे कार्यालय को चीनी दूतावास से एक शक्त संदेश मिला, जिसमें मुझे यात्रा नहीं करने के लिए कहा गया था.” आपको बता दें कि प्रतिनिधि मार्क ताकानो, कॉलिन एलरेड, सारा जैकब्स और नैन्सी मेस भी अतिथि प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं.

इसपर त्साई ने कहा है, “ताइवान स्वतंत्रता और लोकतंत्र के हमारे साझा मूल्यों को बनाए रखने और क्षेत्र में शांति और स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ सहयोग बढ़ाना जारी रखेगा.”

अमेरिकी सांसदों द्वारा इस साल ताइवान की यह तीसरी यात्रा है और कांग्रेस के छह रिपब्लिकन सदस्यों के एक ग्रुप के द्वीप का दौरा करने के कुछ ही हफ्तों बाद यह यात्रा हो रही है. उस प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति त्साई, राष्ट्रीय सुरक्षा महासचिव वेलिंगटन कू और विदेश मंत्री जोसेफ वू सहित अन्य लोगों से मुलाकात की थी.

यह पढ़े: संसद में हो रहे संविधान दिवस समारोह में राष्ट्रपति उपराष्ट्रपति लोकसभा अध्यक्ष और प्रधानमंत्री ने लिया भाग