चीन के विमानों को 16 जून से अपनी सीमा में नहीं घुसने देगा अमेरिका, दोनों देशों के बीच बढ़ा तनाव

कोरोना संकट के दौरान अमेरिका और चीन में तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। इसी बीच अमेरिका ने अपने देश में चीनी विमानों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। इससे पहले चीन ने भी अपने यहां अमेरिकी विमानों के प्रवेश पर रोक लगाई थी, जिसके बाद अब अमेरिका ने यह बड़ा फैसला किया है। दोनों देशों द्वारा विमान प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के बाद अब ट्रेड और ट्रैवल तनाव बढ़ता जा रहा है। यह अमेरिका की तरफ से चीन के खिलाफ जवाबी कार्रवाई है।

बता दे अमेरिका के परिवहन विभाग ने बुधवार को 16 जून से चार चाइनीज एयरलाइन्स पर रोक लगाने का निर्णय लिया है। जिसके बाद इन कंपनियों के विमान न तो अमेरिका में आएंगे और न ही चीन की तरफ जाएंगे। इससे पहले चीन ने अमेरिका की विमानन कंपनियों यूनाइटेट एयरलाइंस और डेल्टा एयरलाइंस के विमानों के चीनी सीमा में आने पर प्रतिबंध लगा दिया था। चीन ने कुछ महीनों पहले ही इन विमानों की सेवा को रद्द करने का फैसला किया था।

अमरीकी परिवहन विभाग का कहना है कि चीन दोनों देशों के बीच विमान सेवा के समझौतों का उल्लंघन कर रहा था। जिसके बाद अमेरिका की तरफ से यह कार्यवाही की गई है। हालांकि, इन सब के बावजूद चीन से बात की जाएगी ताकि दोनों देशों की विमान कंपनियां एक-दूसरे के यहां उड़ान भर सके। अमेरिकी परिवहन विभाग ने कहा है कि चीन द्वारा जितने अमेरिकी विमानों को अनुमति दी जायेगी, उतने ही चीनी विमान को अमेरिका में आने दिया जाएगा।

यह भी पढ़े: गलवान और चुसूल में 100 गज पीछे हटी चीनी सेना, LAC पर एक महीने से चल रहा है तनाव
यह भी पढ़े: किसी भी समय भारत में होगा भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या, लंदन में सभी औपचारिकताएं पूरी