चीनी के स्थान पर करें मिश्री का इस्तेमाल, मिलेंगे जबर्दस्त फायदे

लोग मीठा खाने के बहुत शौकीन होते हैं और किसी भी चीज को मीठा बनाने के लिए चीनी का इस्तेमाल अवश्य करते हैं, लेकिन अगर आप चीनी के स्थान पर मिश्री का प्रयोग करेंगे तो यह आपकी सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद रहेगा। इसलिए आज हम आपको पता रहे हैं कि मिश्री खाने से आपकी सेहत को क्या क्या फायदे होते हैं। ये हैं मिश्री खाने के एक दम चौंकाने वाले फायदे।

खांसी के लिए बेहतर- मिश्री को आयुर्वेद में कई बीमारियों के इलाज के लिए बहुत सारे काम में लिया जाता है, जिसमें खांसी का नाम भी शामिल है। खांसी के इलाज में मिश्री बहुत अहम योगदान निभाती है, क्योंकि यह कफ साफ करने में भी बहुत मदद करती है। मिश्री के सेवन से जल्द आराम मिलता है। अगर आपको भी खांसी हो तो मिश्री को मुंह में रखें और उसका धीरे-धीरे रस लेते रहें और बाद में इसे चबा लें। ऐसा करने से आपका गला बहुत ठीक रहता है।

दिमाग के लिए भी फायदेमंद- आपने मुंह का स्वाद ठीक करने के लिए ही मिश्री का प्रयोग किया होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं मिश्री आपके दिमाग के लिए भी बहुत ठीक है। मिश्री के नियमित सेवन से आपकी यादाश्त भी बढ़ती है और दिमाग की थकान भी दूर होती है। वहीं अगर आप इसका सेवन अखरोट के साथ घी में फ्राई करके करेंगे तो आपको बहुत सारे फायदे होंगे।

आंखों के लिए भी लाभदायक- मिश्री के साथ बादाम, सौंफ और काली मिर्च खाने से आपकी आंखों की रोशनी भी बढ़ती है। इसके लिए 100 ग्राम बादाम, 100 ग्राम मिश्री, 50 ग्राम सौंफ और 25 ग्राम काली मिर्च लें और इनका पाउडर अवश्य बना लें। हर रोज रात को दूध के साथ यह पीने से आपकी आंखों की रोशनी भी बहुत ज्यादा बढ़ जाती है।

किडनी की पथरी में भी असरदार- मिश्री किडनी में होने वाले पथरी के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। अगर किसी के किडनी में पथरी है तो प्याज के रस में मिश्री मिला लें और उसे नियमित रुप से अवश्य लें। ऐसा लगातार करने से जल्दी ही आपकी पथरी पेशाब के जरिए आसानी से बाहर निकल जाएगी।

यह भी पढ़ें:

क्या मैस्टरबेशन या सम्बन्ध बनाने के दौरान स्पर्म निकलने से शरीर की इम्युुनिटी पर असर पड़ता है? जानिए सही जवाब

 पाचन संबंधी हर समस्या होगी छूमंतर, अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके