सिरदर्द की समस्या यूँ करें छूमंतर,पिपरमिंट चाय से भी मिलेगा आराम

सरदर्द एक आम समस्या है। अपनी लाइफस्टाइल में बिजी रहने  के कारण हम अपने खान- पान पर ध्यान नहीं दे पाते हैं। इसलिए हमे कभी कभी सर दर्द हो जाता है। सरदर्द जब लम्बे समय तक रहता है तो उसे माइग्रेन कहा जाता है। दर्द होना संभाविक है क्योंकि हम घंटों एक जगह पर बैठकर काम करते है, चश्मा लगाए रहते है। भूखे रहने से भी सिरदर्द हो सकता है। सर दर्द को मिटने के लिए हम पैन किलर लेते है जो आगे जाकर हमारे शरीर को बहुत नुकसान पंहुचा सकती है।

  • सिरदर्द हो तो दालचीनी को पानी के साथ बारीक पीस लें और फिर उसका पतला सा लेप बनाकर माथे पर लगा लें। सिर दर्द में आराम मिलेगा।
  • बेड पर लेट जाएं और सिर के जिस हिस्से में दर्द है उसे बेड से नीचे लटका दें। जिस तरफ सिर में दर्द है। उस तरफ वाली नाक के हिस्से में सरसों तेल की कुछ बूंदें डालें और ऊपर की तरफ खींचे। आराम मिलेगा।
  • सिर में दर्द हो तो पीपल, सोंठ, मुलहठी, सौंफ, कूठ इन सबको 10-10 ग्राम लेकर पीस लें और उसमें पानी मिलाकर गाढ़ा लेप बना बना लें। इस लेप को माथे पर लगाएं ।
  • तौलिये को गर्म पानी में डालकर, उसे निचोड़कर माथे पर रखें। सिरदर्द में आराम मिलेगा।
  • अदरक या फिर सौंठ का पाउडर भी सिरदर्द खत्म करने में आराम देता है।
  • पिपरमिंट माइग्रेन में बेहद फायदेमंद है। आप इसे चाय में मिलाकर पी सकते हैं।
  • यह भी पढ़ें:

    क्या मैस्टरबेशन या सम्बन्ध बनाने के दौरान स्पर्म निकलने से शरीर की इम्युुनिटी पर असर पड़ता है? जानिए सही जवाब

     पाचन संबंधी हर समस्या होगी छूमंतर, अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके

Loading...