वसंत पंचमी 2021: सरस्वती पूजन का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

16 फरवरी 2021, मंगलवार को वसंत पंचमी है। इसी दिन मां सरस्वती का पूजन -अर्चन किया जाएगा।

पंचमी तिथि 15 फरवरी, सोमवार रात 2:45 बजे शुरू हो जाएगी, जो मंगलवार रात 4:34 बजे तक रहेगी। रेवती नक्षत्र सूर्योदय से रात में 8:07 बजे तक रहेगा।

शुभ मुहूर्त

सरस्वती पूजन मुहूर्त 2021- 16 फरवरी सुबह 6 बजकर 58 मिनट से दोपहर को 12 बजकर 34 मिनट तक
पूजन की अवधि- कुल 5 घंटे 37 मिनट की

बसंत पंचमी पूजा विधि-

मां सरस्वती की प्रतिमा या मूर्ति को पीले रंग के वस्त्र अर्पित करें।
रोली, चंदन, हल्दी, केसर, चंदन, पीले या सफेद रंग के पुष्प, पीली मिठाई और अक्षत अर्पित करें।

मंत्र

ॐ श्री सरस्वती शुक्लवर्णां सस्मितां सुमनोहराम्।।

कोटिचंद्रप्रभामुष्टपुष्टश्रीयुक्तविग्रहाम्।

वह्निशुद्धां शुकाधानां वीणापुस्तकमधारिणीम्।।

रत्नसारेन्द्रनिर्माणनवभूषणभूषिताम्।

सुपूजितां सुरगणैब्रह्मविष्णुशिवादिभि:।।वन्दे भक्तया वन्दिता च

मां सरस्‍वती की वंदना

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभ्रवस्त्रावृता

या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना।

या ब्रह्माच्युत शंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा वन्दिता

सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा॥

शुक्लां ब्रह्मविचार सार परमामाद्यां जगद्व्यापिनीं

वीणा-पुस्तक-धारिणीमभयदां जाड्यान्धकारापहाम्‌।

हस्ते स्फटिकमालिकां विदधतीं पद्मासने संस्थिताम्‌

वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदाम्‌॥