Breaking News
Home / ज़रा हटके / रुपये के सिम्बल में भयंकर वास्तु दोष होने की वजह से देश की अर्थनीति हो रही है डांवाडोल

रुपये के सिम्बल में भयंकर वास्तु दोष होने की वजह से देश की अर्थनीति हो रही है डांवाडोल

रुपये के सिम्बल में भयंकर वास्तु दोष होने की वजह से देश की अर्थनीति डांवाडोल हो रही है। वास्तु विशेषज्ञ राजकुमार झांझरी (अध्यक्ष, रि-बिल्ड नॉर्थ ईस्ट, गुवाहाटी) का दावा है कि 7 वर्ष पूर्व की गई उनकी यह भविष्यवाणी पूरी तरह सही साबित हो चुकी है। डॉलर के मुकाबले रुपया लगातार कमजोर होता जा रहा है। जीडीपी लगातार गिर रही है। सन् 2010 में जब रुपये का नया सिम्बल प्रचलन में आया था, उन दिनों डॉलर के मुकाबले रुपया 44 तथा देश की जीडीपी 9 प्रतिशत के सुनहरे दौर से गुजर रही थी। आज हालात यह है कि डॉलर के मुकाबले 74 रुपये की रिकॉर्ड गिरावट तथा 5 प्रतिशत की चिंताजनक विकास दर से देश में हाहाकार मचा है।

वास्तु विशेषज्ञ राजकुमार झांझरी ने कहा – मैंने सन् 2011 में तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह को पत्र लिखकर रुपये के सिम्बल में वास्तु दोष होने तथा इस वजह से रुपये तथा विकास दर में गिरावट की भविष्यवाणी करते हुए देश के वृहत्तर हित में इसमें सुधार की अपील की थी। इस हेतु मैंने गुवाहाटी के फैंसीबाजार स्थित महावीर उद्यान में अनशन भी किया था।

Loading...

लेकिन केंद्र सरकार द्वारा रुपये के सिम्बल का वास्तु दोष दूर करने की कोई भी पहल न करने का खामियाजा आज देश को भयंकर आॢथक बदहाली के रूप में भुगतना पड़ रहा है। पार्टी के हित के लिए भाजपा ने अपने कार्यालय को वास्तु सम्मत बनाने तत्काल कदम उठाया था, मगर देश की अर्थनीति में भयंकर गिरावट के बावजूद रुपये के सिम्बल को वास्तु दोष मुक्त करने की केंद्र की भाजपा सरकार कोई भी पहल नहीं कर रही है। लगता है केंद्र की भाजपा सरकार कयामत के दिन का इंतजार कर रही है, जब देश की अर्थनीति पूरी तरह चरमरा जायेगी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *