विराट कोहली हर उस तरीके से आउट हो रहे हैं जिससे हुआ जा सकता है – फाफ डु प्लेसी

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के पूर्व कप्तान विराट कोहली आईपीएल में सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं। सीजन 15 में कोहली के बल्ले से 13 मैचों में 19.67 की औसत से मात्र 236 ही रन निकले हैं। वहीं इस दौरान उन्होंने एक ही अर्धशतकीय पारी खेली। कोहली आईपीएल 2022 में दो बार रन आउट होने के साथ-साथ 3 बार गोल्डन डक पर भी आउट हुए।

वहीं पंजाब किंग्स के खिलाफ उनकी बदकिस्मती ने उन्हें पवेलियन का रास्ता दिखाया। विराट कोहली के आउट होने के तरीकों पर आरसीबी के कप्तान फाफ डुप्लेसी ने कहा कि वह हर उस तरीके से आउट हो रहे हैं जिससे क्रिकेट में आउट हुआ जा सकता है।

मैच के बाद डुप्लेसी ने कोहली की फॉर्म के बारे में कहा “जिस भी तरीके से आउट हो सकते हैं, वह उसके साथ हो रहा है। ऐसे ही गेम काम करता है। जब आप थोड़े दबाव में होते हैं तो खेल आप पर और दबाव डाल देता है। आपके हाथ में सिर्फ इतना है कि आप मेहनत करना जारी रखें, सकारात्मक बने रहें।

आज उन्होंने कुछ बेहतरीन शॉट्स भी खेले, वह अच्छी लय में दिख रहे थे। वह चीज़ों को बखूबी नियंत्रित भी कर रहे हैं। हर किसी के करियर में खराब दौरा काफी मुश्किल होता है, मगर वह इसे अच्छे से हैंडल कर रहा है।पंजाब किंग्स के खिलाफ आरसीबी को 54 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

इस हार के साथ आरसीबी की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को थोड़ा झटका लगा है। आरसीबी का अगला मुकाबला गुजरात टाइटंस के खिलाफ है। टीम को हर हाल में उस मैच में जीत दर्ज करनी होगी। हार्दिक पांड्या की टीम को हराने के बाद आरसीबी नेट रन रेट के आधार पर ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर पाएगी।

मैच के बारे में कप्तान ने कहा “यह एक अच्छा स्कोर था, जाहिर तौर पर जॉनी ने जिस तरह से शुरुआत की, उसने हमारे गेंदबाजों को वास्तव में दबाव में डाल दिया। मुझे लगा कि हमने उन्हें थोड़ा पीछे खींच लिया था। 200 इस विकेट पर अच्छा स्कोर था। जब आप इस तरह के स्कोर का पीछा कर रहे होते हैं

आप गुच्छों में विकेट गंवाने का जोखिम नहीं उठा सकते और दुर्भाग्य से हमारे साथ ऐसा ही हुआ है।उन्होंने आगे कहा “हम एक दिन की छुट्टी लेंगे और फिर देखेंगे कि एक ऐसे गेम के लिए कैसे स्विच कर सकते हैं जो हमारे लिए जरूरी है।

एक और नेट सत्र आपको एक बेहतर खिलाड़ी नहीं बनाने वाला है, यह अपने आप को दिमाग में मजबूत बनाने के बारे में है। अगर हम अपनी क्षमता के अनुसार खेलते हैं तो हम बहुत मजबूत पक्ष हैं। दुर्भाग्य से, हमने आज रात ऐसा नहीं किया।”

यह पढ़े: वानिंदु हसरंगा ने युजवेंद्र चहल से छीनी पर्पल कैप, ऑरेंज कैप की रेस में जोस बटलर का वर्चस्व बरकरार