विटामिन डी की कमी से होती है भूलने की बिमारी

एक स्वस्थ शरीर को बहुत से विटामिन्स और अन्य पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। इन्ही जरुरी विटामिन्स में से एक है विटामिन डी। यह शरीर में कैल्शियम के अवशोषण, हृदय , मस्तिष्क, प्रतिरक्षा तंत्र और हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए बहुत जरुरी होता है। विटामिन डी की कमी से भूलने की बीमारी होने लगती है।

  • विटामिन डी 3 कोलेकैल्सीफेराल सूर्य की रोशनी से पैदा होता है। इसलिए हमारे शरीर पर सूर्य की रोशनी पड़ना आवश्यक होता है।
  • मशरूम विटामिन डी का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है। इसमें कैलोरी कम मात्रा में और विटामिन डी अधिक मात्रा में होता है।
  • सूरजमुखी के बीज में विटामिन डी के साथ साथ मोनोअनसैचुरेटेड वसा और प्रोटीन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।
  • काड लिवर ऑयल में भी विटामिन डी पाया जाता है जो जोड़ों के दर्द को दूर करने में सहायक होता है।

तुलसी के पत्तों को दूध में मिलाकर पीने से मिलती है कई स्वास्थ्य लाभ