हमने बालासाहेब की शिवसेना को नहीं छोड़ा है, बोले एकनाथ शिंदे

महाराष्ट्र की राजनीति में जारी उठापटक के बीच अब सरकार गिरने और बनने के कयास लगाए जा रहे हैं। इसी बीच बागी विधायकों के अगुआ शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने कहा है कि उन्होंने बालासाहेब ठाकरे की शिवसेना को नहीं छोड़ा है। उनकी यह टिप्पणी तब आई है जब अटकलें लगाई जा रही हैं

शिंदे अन्य विधायकों के साथ महा विकास अघाड़ी सरकार को गिराने के लिए भाजपा में शामिल हो सकते हैं। दरअसल, असम के गुवाहाटी के लिए रवाना होने से पहले सूरत हवाई अड्डे पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए शिवसेना नेता ने कहा कि वे बालासाहेब ठाकरे के हिंदुत्व का पालन कर रहे हैं और इसे आगे भी ले जाएंगे।

बालासाहेब के हिंदुत्व का पालन कर रहे हैं और आगे भी करेंगे। एकनाथ शिंदे अपनी पार्टी के 33 विधायकों और सात निर्दलीय विधायकों के साथ सूरत के ले मेरिडियन होटल में ठहरे थे और बुधवार की सुबह असम के गुवाहाटी के लिए सूरत हवाई अड्डे से रवाना हुए।

वहीं गुवाहाटी पहुंचने के बाद शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने कहा कि शिवसेना के कुल 40 विधायक यहां मौजूद हैं। हम बालासाहेब ठाकरे के हिंदुत्व को आगे बढ़ाएंगे। वहीं असम में भाजपा विधायक सुशांत बोरगोहेन ने कहा कि मैं उन्हें सूरत से लेने गया था। कितने विधायक आए हैं। यह मैंने नहीं गिना। मैं यहां निजी संबंधों के चलते आया हूं।

उन्होंने किसी कार्यक्रम का भी खुलासा नहीं किया है इससे पहले एकनाथ शिंदे ने ट्वीट करते हुए कहा कि हम बालासाहेब के कट्टर शिव सैनिक हैं। बालासाहेब ने हमें हिंदुत्व सिखाया है। हमने कभी धोखा नहीं दिया है और न ही कभी धोखा देंगे। बालासाहेब के विचारों और धर्मवीर आनंद दिघे साहब द्वारा मिली शिक्षाओं के साथ हम आगे बढ़ेंगे।

यह पढ़े: जम्मू-कश्मीर के बडगाम में सुरक्षा बलों की बड़ी कार्रवाई, लश्कर के तीन आतंकवादी गिरफ्तार