वेस्टइंडीज: मां बेटी ने जीता अंतरिक्ष यात्रा का इनाम

वेस्टइंडीज के एंटीगुआ और बारबुडा की रहने वाली केइशा शाफ और उनकी बेटी वर्जिन गैलेक्टिक की सबसे पहली अंतरिक्ष सैलानी बनेंगी. केइशा ने यात्रा के लिए करीब 10 लाख डॉलर के मूल्य के दो टिकट जीत लिए हैं. 44 साल की केइशा एक हेल्थ कोच हैं और वो इस यात्रा पर अपनी 17 साल की बेटी को लेकर जाना चाहती हैं. उनकी बेटी ब्रिटेन में विज्ञान की छात्रा है और एक दिन नासा के लिए काम करने के सपने देखती है.

केइशा को वर्जिन गैलेक्टिक के संस्थापक रिचर्ड ब्रैंसन ने नवंबर में ही कैरिबियन में उनके घर जा कर उन्हें यह खबर दी और चौंका दिया था. केइशा ने बताया, “मुझे लगा था बातचीत जूम पर होगी. जब मैंने रिचर्ड ब्रैंसन को अपने घर में आते देखा मैं तो बस चिल्लाने ही लगी! मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था.”

प्रतियोगिता के जरिए जीत पर उन्होंने आगे बताया, “मैं जब एक छोटी बच्ची थी तब से अंतरिक्ष में मेरी रूचि थी. यह मेरे लिए जिन्दा महसूस करने का और इसे मेरे जीवन का सबसे बड़ा रोमांच बना देना का बहुत बड़ा अवसर है.” केइशा ने पुरस्कार वर्जिन गैलेक्टिक द्वारा आयोजित किए गए एक स्वीपस्टेक्स प्रतियोगिता में भाग लेने के बाद इसे जीता है.

इस प्रतियोगिता के जरिए करीब 17 लाख अमेरिकी डॉलर इकठ्ठा किए गए हैं, जो गैर सरकारी समूह “स्पेस फॉर ह्यूमैनिटी” को दान किए जाएंगे. यह समूह अंतरिक्ष तक लोगों की पहुंच को बढ़ाने के लिए काम करता है. केइशा ने कितने पैसे दान में दिए इस जानकारी को सार्वजनिक नहीं किया गया लेकिन इसमें 10 डॉलर तक का न्यूनतम योगदान किया जा सकता था.

केइशा ने इसमें भाग लेने का फैसला वर्जिन अटलांटिक की एक उड़ान पर एक विज्ञापन देखने के बाद लिया था. उन्होंने बताया, “मैंने बस आवेदन भरा, जो जरूरी था वो किया.. 2022 तक उड़ान का लक्ष्य वर्जिन गैलेक्टिक के एक प्रवक्ता ने कहा कि केइशा कंपनी के सबसे पहले अंतरिक्ष सैलानियों में से एक होंगी, लेकिन कतार में उनका स्थान क्या होगा यह अभी तय नहीं किया गया है.

कंपनी ने अभी से अंतरिक्ष यात्रा के करीब 700 टिकट बेच दिए हैं. इनमें 600 टिकट 2,50,000 डॉलर प्रति टिकट की दर पर 2005 से 2014 के बीच बिके थे. करीब और 100 टिकट 4,50,000 डॉलर की दर पर इसी साल अगस्त के बाद बिके हैं.

यह पढ़े: शेयर बाजार में लौटी रौनक, सेंसेक्स 454 तो निफ्टी ने बनाई 121 अंकों की बढ़त