धोनी जो कर सकते थे, मैं चाहकर भी कभी ऐसा नहीं कर पाया: रिकी पोंटिंग

ऑस्ट्रेलिया को दो बार आईसीसी विश्व कप विजेता बनाने वाले पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने महेंद्र सिंह धोनी के संदर्भ में अपनी राय जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि धोनी जो कर सकते थे, वह मैं नहीं कर सकता। तीनों आईसीसी ट्रॉफी- 2007 में टी20 विश्व कप, 2011 में वनडे विश्व कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी जिताने वाले धोनी दुनिया के इकलौते कप्तान है। उल्लेखनीय है कि धोनी ने 15 अगस्त की शाम अचानक से सोशल मीडिया पर संन्यास का एलान किया था।

इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहते हुए धोनी ने इंस्टाग्राम पर लिखा ‘अब तक आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद। शाम सात बजकर 29 मिनट से मुझे रिटायर्ड समझिए।” धोनी के वीडियो में बैकग्राउंड में किशोर कुमार का गाना ‘मैं पल दो पल का शायर हूं…’ चल रहा था।’

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने कहा ‘धोनी कभी अपनी भावनाओं को प्रकट नहीं होने देते। यही एक अच्छे कप्तान की निशानी है। पोंटिंग ने कहा जब वह कप्तान थे तो ऐसा करने का काफी प्रयास करते थे, लेकिन कर नहीं सके।’ भारत के पूर्व कप्तान धोनी भारत ही नहीं विश्व के भी सबसे सफल कप्तान रहे।

धोनी के नेतृत्व की तारीफ करते हुए पोंटिंग ने आगे कहा कि आईपीएल में वह उनकी (धोनी) टीम चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ दिल्ली कैपिटल्स के कोच है। वह अब उसके खिलाफ कोचिंग करने के लिए उत्सुक है और यह सुनिश्चित कर रहे है कि जब चेन्नई, दिल्ली के खिलाफ खेलेगी तो अपनी बल्लेबाजी से कोई मैच हमसे नहीं जीत पायेगा। पोंटिंग ने कहा कि धोनी के पास कठिन परिस्थितियों में शांत बने रहने का गुण है। जो उन्हें महान और सर्वश्रेष्ठ बनाता। है।

यह भी पढ़े: छह महीने में चुना जाएगा नया कांग्रेस अध्यक्ष, तब तक सोनिया संभालेंगी जिम्मेदारी
यह भी पढ़े: चीन ने पाकिस्तान को बेचा अपना सबसे बड़ा लड़ाकू जहाज, तीन युद्धपोत और भेजेगा