आंखों की देखभाल करना क्यों है जरूरी ?

बिजी लाइफस्टाइल और काम के दबाव के कारण हम अपनी आंखों पर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाते हैं, जिसका आंखों पर बहुत बुरा असर पड़ता है। इसके साथ ही सिरदर्द की समस्या हो जाती है। समस्या बढ़ जाने पर चश्मा लगने की नौबत तक आ जाती है लेकिन समय रहते ध्यान देने पर इस दिक्कत से बचा जा सकता है।

कंप्यूटर से दूरी-
काम करते समय आंखों से कंप्यूटर की दूरी कम से कम 40 सेमी रखें। इससे कंप्यूटर की रोशनी का आंखों पर बहुत कम असर होगा।

लाइट जरूरी-
कंप्यूटर या लैपटॉप पर काम करते समय कमरे की लाइट जलाकर रखें। ऐसे में कंप्यूटर से निकलने वाली रोशनी आंखों पर बहुत कम प्रभाव डालेगी।

पलकें झपकाएं-
काम करते समय पलकों को लगातार झपकाते रहें। इससे आंखों में ड्राइनेस नहीं होगी और जलन की समस्या भी बहुत कम हो जाएगी।

हेल्दी डाइट-
डाइट में दूध, दही, पनीर, अंडा, गाजर और हरी पत्तेदार सब्जियां शामिल करें। इनसे पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, विटमिन A, E और C मिलेंगे जो आंखों को हेल्दी रखेंगे।

एक्सरसाइज-
काम के दौरान दिन में दो बार आंखों की एक्सरसाइज करें। इसके लिए 5 मिनट तक आंखों की पुतलियों को पहले दाएं और फिर बाएं तरफ घुमाएं।

ब्रेक लें-
काम के दौरान हर 40 मिनट में थोड़ा ब्रेक लें। 5 मिनट आंखें बंद रखें। इससे आंखों की थकान भी दूर हो जाएगी।

आंखों की रोशनी बढ़ानी है तो खाएं ये चीजें-

बादाम : रोज रात में 6-7 बादाम पानी में भिगोकर रख दें। इसे सुबह छिलका उतारकर ही खाएं।

त्रिफला : रात को त्रिफला पानी में भिगोकर रख दें। सुबह इसके पानी से आंख जरूर धोएं।

गाजर : इसमें विटमिन A,B और C पाया जाता है। रोज खाने से आंखों की रोशनी बहुत ज्यादा बढ़ती है।