अपनाएंगे इस आदत को तो हमेशा रहेंगे स्वस्थ

आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो हंसना अवश्य सीखें। फिर न तो आपको डॉक्टर के पास जाने की कोई जरूरत पड़ेगी और न ही आपको जिन्दगी बोझ लगेगी। आज सब लोग अपने सपनों को पूरा करने में इस कदर व्यस्त हैं कि उनके चेहरे से हंसी ही गायब हो गई है। भौतिकता के इस वर्तमान युग में इसका सबसे अधिक प्रतिकूल असर बच्चों के लाइफ पर पड़ा है।

कामकाजी लोगों के पास न तो अपने बूढ़े मां-बाप के लिए वक्त है और न ही वे बच्चों को कोई समय दे पाते हैं। आइए, आज संकल्प लें कि न केवल हम खुलकर हंसेंगे बल्कि दूसरों को भी हंसाकर स्वस्थ रहने का मंत्र देंगे हमारे यहाँ गाहे-बगाहे हास्य कवि सम्मेलनों का आयोजन होते रहता है। इसमें लोगों को हंसी-ठिठोली का मौका मिलता है। विधानसभा के स्थापना दिवस, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड मेला, 26 जनवरी को कला संस्कृति विभाग, दूरदर्शन एवं रेडियो के स्थापना दिवस के अलावा होली की पूर्व संध्या पर हरियाणा संघ द्वारा हास्य कवि सम्मेलनों का आयोजन किया जाता रहा है। इनके अलावा कई संस्था होली के पहले हास्य कवि सम्मेलन आयोजित करने लगी हैं।

देश के कई शहरों में खुल गए लाफ्टर क्लब

देश के कई शहरों में हंसी के क्लब (लाफ्टर क्लब) खुल गए हैं। यहां लोग रोजमर्रे का काम शुरू करने से पहले या काम से निजात पाने के बाद एकत्रित होकर एक-दूसरे से खुशियां बांटने का काम भी करते हैं।

यह भी पढ़ें-

कभी न करे ये गलतिया अगर करना है वजन कम