इन तरीकों से आपके बच्चे का दिमाग हो सकता है कंप्यूटर की तरह तेज

आज के काम्पिटीशन के इस युग में हर माता-पिता की यह ख्वाहिश होती है कि उनका बच्चा सबसे आगे रहे। लेकिन ऐसा केवल तभी संभव है, जब बच्चे का दिमाग भी उतना ही शाॅर्प हो। अगर आप भी अपने बच्चे को बुद्धिमान बनाना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ उपाय अपना सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इन उपायों के बारे में-

बच्चों के दिमागी विकास के लिए बेहद जरूरी है कि उनके साथ कुछ खेल खेले जाएं। गेम्स खेलते समय इस बात का ध्यान रखें कि खेल ऐसे हों, जिनमें उन्हें मजा तो आए ही, साथ ही उनकी दिमागी कसरत भी हो।

आपको शायद जानकर हैरानी हो लेकिन दिन में ली गई नैपिंग भी बच्चे के दिमागी विकास पर सकारात्मक असर डालती है। एक अध्ययन से यह बात सामने भी आई है। अध्ययन के मुताबिक़ दोपहर में खाना खाने के बाद क़रीब एक घंटे की नींद लेने से बच्चों की याददाश्त बढ़ती है। इस प्रकार, दिमाग़ को मज़बूत बनाने और सीखने के लिए दोपहर की नींद बेहद अहम है।

बच्चों के प्रति माता-पिता का प्यार भी उनके दिमाग विकास में अहम भूमिका निभाता है। जो महिलाएं अपने नवजात बच्चे के प्रति ज्यादा शिष्ट रहती हैं उनके बच्चों के दिमाग के हिप्पोकेंपस क्षेत्र में ज्यादा नर्व कोशिकाएं बनती हैं जिससे बच्चे का दिमाग तेज होता है।

यह भी पढ़ें:

एल्युमिनियम फॉयल में पैक खाना बनता है इन गंभीर बीमारियों का कारण!

कमर दर्द से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे