महिलाएं खुद भी कर सकती हैं अपने स्तनों की जांच,जानिए कैसे

आज के समय में महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर के मामले काफी बढ़ते जा रहे हैं। अमूमन महिलाओं को इस बात का पता जब तब चलता है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि स्तनों की जांच समय-समय पर की जाए। इसके लिए आपको डाॅक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं है, बस आप खुद भी इसकी जांच कर सकती है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

जिन महिलाओं को पीरियड्स होते हैं, उन्‍हें पीरियड्स शुरू होने के 10 दिन बाद और जिनके पीरियड्स बंद हो गए हैं, वे महीने में एक दिन तय करें लें और जांच करें।

अपने स्तनों की जांच करने के लिए दाहिने हाथ से बायां स्तन और बाएं हाथ से दाहिन स्तन गोल-गोल घुमाकर देखें और अगर कोई भी असामान्य बात नजर आती है, मसलन किसी भी प्रकार का दर्द या फिर निपल्स से किसी भी प्रकार सा स्राव होता है तो इसकी तुरंत डॉक्टर से जांच कराएं।

वैसे जिन महिलाओं के पीरियड्स बंद हो चुके हैं, उन्हें साल मे एक बार मैमोग्राफी करानी चाहिए।

हालांकि खुद से जांच करने के दौरान तीन बातों का खासतौर पर ध्यान रखा जाना चाहिए। आपको किसी भी तरह का बदलाव नजर आए तो सावधान हो जाइए। कोई भी बात असामान्य दिखे तो सावधान हो जाइए। ब्रेस्‍ट की स्किन के ऊपर कुछ भी असामान्य नजर आए तो सावधान हो जाइए। सबसे जरूरी बात, अगर निपल से बिना छुए कोई तरल पदार्थ निकल रहा है तो उसे गंभीरता से लीजिए। इसे कभी नजरअंदाज मत कीजिए।