गेहूं के चमत्कारिक औषधीय गुण

गेंहू को हम अनाज के रूप में जानते है| यह एक ऊर्जा देने वाला अनाज है| यह सब जानते है लेकिन यह हमारे स्वास्थ व सेहत के लिए बहुत उपयोगी है और इसमें अनेकों औषधीय गुणों की भरमार है ये आप नहीं जानते होंगे| आइये हम आपको बताते है गेंहू के कुछ चमत्कारिक औषधीय गुण

याददाश्त बढाए – गेंहू से बना हरीरा पीने से दिमाग की कमजोरी दूर होती है और स्मरण शक्ति बढ़ती है| गेंहू के हरीरा में चीनी और बादाम मिलाकर पीएं| यह आपकी याददाश्त बढ़ाने में बहुत मदद करेगा|

खांसी दूर करे – गेंहू के दानों में नमक मिलाकर इसे उबाल लें| जब पानी एक तिहाई रह जाएं तब इसे गरम ही पी लें| सात दिनों तक इसे प्रयोग करें| आपकी खांसी दूर हो जाएगी|

फोड़े फुंसी व खुजली में दे राहत – गेंहू के आटे को गूंथ लें तथा त्वचा की जलन, खुजली, फोड़े फंसे या आग में झुलसी त्वचा पर इस आटे को लगा देने से त्वचा पर ठंडक पड़ जाती है| यदि किसी विषैले कीड़े ने काट लिया हो तो आटे में सिरका मिलाकर उस स्थान पर लगाएं, तुरंत लाभ मिलेगा|

स्टोन में फायदेमंद – स्टोन या पथरी से पीड़ित व्यक्ति को गेंहू व चने के पानी को कुछ दिन तक उबालकर पीना चाहिए| इस पानी को पीने से किडनी व मूत्राशय की पथरी गल गलकर अपने आप निकल जाएगी|

अस्थिभंग में है लाभदायक – गेंहू की थोड़ी सी मात्रा को गरम तवे में भूनकर पीस लें| पीसे गेंहू में शहद मिला लें और इसे कुछ दिनों तक चाटें| ऐसा करने से अस्थिभंग कुछ दिनों में दूर हो जाता है|